UP में नवनियुक्त 69000 अध्यापकों के वेतन भुगतान का रास्ता साफ़, आदेश जारी

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के आदेश के बाद 69000 नवनियुक्त बेसिक शिक्षकों के वेतन भुगतान के सम्बन्ध में नया आदेश जारी हो गया है. कोरोना महामारी की वजह से इनका ग्रेजुएशन और बीएड के शैक्षिक प्रमाणपत्रों का सत्यापन कार्य रुका हुआ था. मुख्यमंत्री के आदेश के बाद अपर मुख्य सचिव रेणुका कुमार ने महानिदेशक स्कूल शिक्षा को इस सम्बन्ध में आदेश जारी कर दिया है.

आदेश में कहा गया है कि विश्विद्यालय बंद होने के कारण नवनियुत शिक्षकों का वेतन आहरण नहीं हो पा रहा है. चुकी यहाँ से उनके शैक्षिक दस्तावेज प्रमाणित होने है. ऐसी स्थिथि में उनसे शपथ पत्र ल्रकर आहरण की कार्रवाई की जाये. शपथ पत्र में शपथी शपथ ले की उसके द्वारा उपलब्ध कराये गए दस्तावेज फर्जी नहीं है. अगर शपथ पत्र के बाद दस्तावेज भविष्य में स्थिति सुधरने पर वेरिफिकेशन के समय फर्जी निकलते हैं तो उनपर कार्रवाई की जाएगी.

आगे लिखा है कि नवनियुक्त शिक्षक द्वारा जो शपथ पत्र दिया जायेगा उसकी ओरिजनल कॉपी सम्बंधित जिले के BSA द्वारा बेसिक शिक्षा परिषद के सचिव को भेजी जाएगी. वहीँ उसकी एक प्रति अपने पास BSA कार्यालय में सुरक्षित रखी जाएगी. वही उसके बाद  सचिव को उसकी डिजिटल कॉपी निदेशक बेसिक शिक्षा को भेजनी होगी एवं उसकी डिजिटल और एक कॉपी सुरक्षित अपने पास रखनी होगी.

बता दें ये आदेश मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के प्रदेश के अधिकारीयों को निर्देश जारी करने के बाद आया है.

ये भी पढ़ें : कोरोना महामारी के बीच पूर्व क्रिकेटर Virendra Sehwag ने उठाया बड़ा कदम

 

 

Related Articles

Back to top button