Corona Vaccine बनाने में Oxford यूनिवर्सिटी को मिली बड़ी कामियाबी

लंदन: चीनी वायरस से बचाव को लेकर दुनिया भर में वैज्ञानिक जुटे हैं। इसी बीच ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी बड़ी और अच्छी खबर सामने आ रही है। ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी के वैज्ञानिकों को कोरोना वायरस की रोकथाम में कारगर वैक्सीन बनाने में बड़ी सफलता मिली है। जानकारी मिल रही है अगर सब ठीक रहा तो अगले 3 महीने में ब्रिटैन के आम लोगों तक वैक्सीन पहुंच जाएगी।

वैज्ञानिकों ने ये जानकारी दी है कि अगले 3 महीने में कोरोना वैक्सीन को ब्रिटेन में उतारा जा सकता है। फिलहाल यहाँ कोरोना वैक्सीन अपने ट्रायल के एडवांस या यूँ कहें लास्ट स्टेज में है। ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी में कोरोना वैक्सीन पर रिसर्च कर रहे वैज्ञानिकों को उम्मीद है कि इस साल के अंत तक इसे नियामकों द्वारा अनुमोदन मिल जाएगा। अगर सब कुछ ठीक रहा तो ब्रिटेन में हर वयस्क को छह महीने के भीतर इस वैक्सीन का डोज मिल जाएगी।

ये भी पढ़ें : फिर दो बड़े कानूनों में संशोधन की योजना में जुटी मोदी सरकार

यूनिवर्सिटी का कहना है कि ह्यूमन ट्रायल के दौरान यह पाया कि इस वैक्सीन से लोगों में कोरोना वायरस से लड़ने की इम्युनिटी यानी प्रतिरोधक क्षमता विकसित हुई। इस टीके के ट्रायल में 1077 लोगों को शामिल किया गया था। ह्यूमन ट्रायल के दौरान जिन लोगों को यह टीका लगाया गया था, उनके शरीर में कोरोना वायरस से लड़ने वाले व्हाइट ब्लड सेल और एंडीबॉडी विकसित होने के सबूत मिले हैं। कोविड-19 महामारी के ख़िलाफ़ दुनिया भर में चल रहे वैक्सीन निर्माण के कार्य में इसे बड़ी उपलब्धि माना जा रहा है।

गौरतलब है कि ब्रिटेन की ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी कोरोना वैक्सीन की रिसर्च की दौड़ में काफी आगे है। इस वैक्सीन को ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी और ब्रिटिश-स्वीडिश फार्मास्युटिकल फर्म एस्ट्राजेनेका द्वारा विकसित किया गया है।

Related Articles

Back to top button