पद्मावती की रिलीज़ टलने वाली खबरें झूठी – 1 दिसंबर को ही रिलीज़ होगी, करेगी रिकॉर्डतोड़ शुरुआत

0

नई दिल्ली। आजकल पद्मावती का विरोध सुर्खियों में बना हुआ है। कहीं दीपिका पादुकोण के पुतले फूंके जा रहे हैं तो कहीं संजय लीला भंसाली को जान से मारने की धमकी दी जा रही है। राजपूत संघों ने सेंसर बोर्ड को धमकी दी हैं कि अगर फिल्म रिलीज हुई तो वो सिनेमाघरों को फूंक देंगे। Image result for padmavati

हाल ही में खबर आ रही थी कि तकनीकी कारणों के चलते सेंसर बोर्ड ने इस फिल्म की रिलीज़ पर रोक लगा दी है। कुछ दिनों पहले खबर आई थी कि सेंसर बोर्ड ने यह फिल्म फिल्ममेकर्स को वापस लौटा दी है। सूत्रों के मुताबिक यह खबर भी सामने आई थीं कि यह फैसला फिल्म के प्रति बढ़ते हुए विरोध को देखते हुए लिया गया था। कि राजनीतिक दबाव के बाद निर्माता ‘पद्मावती’ की रिलीज़ 12 जनवरी तक टालने की योजना बना रहे हैं।

लेकिन अब निर्माताओं ने उन खबरों को झूठा साबित कर कहा है कि इन सारी खबरों में कोई सच्चाई नहीं है ये  खबरें अफवाह मात्र हैं। फिल्म की रिलीज़ अगले साल जनवरी तक के लिए टाल दी गई है।

संपर्क करने पर वायकॉम 18 मोशन पिक्चर्स के मुख्य कार्यकारी अधिकारी अजीत एंधेरे ने कहा है, ”यह पूरी तरह अफवाह है।” उन्होंने यह बयान ट्विटर पर भी साझा की

उन्होंने ट्वीट किया, ”पद्मावती की रिलीज टालने वाली खबरों का कोई आधार नहीं है।”

फिल्म ‘पद्मावती’ का रिलीज हो पाना भी अब अपने आप में एक बड़ी घटना होगी। अब देखना है क इन विवादों का पद्मावती की पॉप्यूलैरिटी पर कैसा प्रभाव पड़ता है फिल्म चलती है या विवादों के कारण फिल्म सेंसर बोर्ड पर धराशाही हो जाती है। बता दें कि ऐसे कयास लगाए जा रहे हैं कि इतने विवादों के चलते यह फिल्म सफलता के कई पुराने रिकॉर्ड्स तोड़ नए रिकॉर्ड्स कायम करेगी।

बताते चलें कि करणी सेना के नेता महीपाल सिंह मकराना ने गुरुवार को धमकी दी कि अगर बालीवुड फिल्म ‘पद्मावती’ पर प्रतिबंध नहीं लगाया गया और दीपिका पादुकोण अपनी भडकाऊ बातों से भावनाओं को भडकाना बंद नहीं करती हैं तो महाकाव्य रामायण में जिस तरह सूर्पणखा की नाक काट दी गई थी उसी प्रकार की जाएगी।

loading...
शेयर करें