पाक ने किया संघर्षविराम का उल्लंघन, गोलीबारी में दो जवान शहीद

जम्मू-कश्मीर में पाकिस्तानी सैनिकों की गोलाबारी में दो जवान हुए शहीद

जम्मू: पाकिस्तानी सैनिकों ने संघर्षविराम का फिर उल्लंघन करते हुए जम्मू-कश्मीर के राजौरी जिले में नियंत्रण रेखा पर गोलीबारी की जिससे सेना के दो जवान शहीद हो गये। पाकिस्तान ने जनवरी से अगस्त तक 3300 से अधिक बार संघर्षविराम का उल्लंघन किया।

रक्षा प्रवक्ता का बयान

रक्षा प्रवक्ता ने बताया कि पाकिस्तानी सैनिकों ने सुंदरबानी सेक्टर में नियंत्रण रेखा पर अकारण गोलीबारी की। भारतीय सैनिकों ने भी जवाबी कार्रवाई में गोलियां चलायी। गोलीबारी में सेना के दो जवान गंभीर रूप से घायल हो गये और बाद में उनकी मौत हो गयी। शहीद जवानों की पहचान नायक प्रेम बहादुर खत्री और राइफलमेन सुखबीर सिंह के रूप में की गयी है।

संघर्षविराम के उल्लंघन का रिकार्ड

जम्मू कश्मीर में नियंत्रण रेखा और अंतरराष्ट्रीय सीमा पर पाकिस्तान ने चालू वर्ष के पहले आठ महीनों में 3300 से अधिक बार संघर्षविराम का उल्लंघन किया है। आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि इस वर्ष जनवरी से अगस्त तक पाकिस्तान ने 3386 बार संघर्षविराम को उल्लंघन किया है। उन्होंने बताया कि जनवरी में 394, फरवरी में 389, मार्च में 454, अप्रैल में 412, मई में 398, जून में 423, जुलाई 482 और अगस्त में 434 बार संघर्षविराम का उल्लंघन हुआ है।

संघर्षविराम की घटनाएं

डाटा के अनुसार वर्ष 2019 में जम्मू कश्मीर में 3479 संघर्षविराम की घटनाएं हुई थी। वर्ष 2018 में राज्य की सीमाओं में 2140 संघर्षविराम की घटनाओं हुई थी। इस दौरान इस महीने की शुरूआत में जम्मू कश्मीर में गुरेज से उरी सेक्टरों में नियंत्रण रेखा से सटे इलाकों में पाकिस्तानी सैनिकों ने अत्यधिक संघर्षविराम का उल्लंघन किया जिसमें 10 लोगों की मौत हो गयी जिसमें चार जवान भी शहीद हुए हैं।

यह भी पढ़े:प्रशंसकों ने अपने चहेते खिलाड़ी माराडोना को आंसुओं के सैलाब में दी अंतिम विदाई

यह भी पढ़े:देश में कोरोना संक्रमण का आंकड़ा 93 लाख के पार, 87.18 लाख मरीज स्वस्थ

Related Articles