Pakistan: संयुक्त राष्ट्र ने नहीं की मदद तो 10 में से 8 को नहीं लग पाएगा टीका

नई दिल्ली: पाकिस्तान (Pakistan) में कोरोना वैक्सीन (Covid-19 Vaccine) की प्रक्रिया काफी धीरे चल रही है। रिपोर्ट्स की माने तो पाकिस्तान की हालत इतनी खराब है कि वहां अधिकतर लोगों तक वैक्सीन नहीं पहुंच पायेगा. आंकड़ों पर जाए तो 10 में से 8 लोगों को टीका नहीं लग पाएगा।

बात यहीं खत्म नहीं होती. अगर संयुक्त राष्ट्र पाकिस्तान (Pakistan) की मदद नहीं करता है तो वहां की 20 प्रतिशत आबादी को भी कोरोना वैक्सीन नहीं लग पायेगा।

इस समय दुनियाभर के तमाम देश जहां वैक्सीन बनाने का हर संभव प्रयास करने में जुटे है वहीँ दूसरी तरफ पाकिस्तान संयुक्त राष्ट्र (United Nation) की 45 मिलियन फ्री कोवैक्स का इंतजार कर रहा है जिससे की उसके देश की 20 प्रतिशत जनसंख्या को कोरोना टीका लगाया जा सके। विश्व स्वास्थ्य संगठन (World Health Organization) द्वारा जिन 189 देशों को फ्री कोरोना वैक्सीन देने का ऐलान किया गया है उसमें पाकिस्तान भी शामिल है.

यह भी पढ़ें: डोनाल्ड ट्रंप के खिलाफ तेज हुई महाभियोग प्रक्रिया, समयपूर्व पद छोड़ने का बढ़ा दबाव

पाकिस्तानी अधिकारियों के अनुसार चीन की कोरोना वैक्सीन के ट्रायल के रिजल्ट आने के बाद बड़े पैमाने पर वैक्सीन (Vaccine) की खरीद की जाएगी। रिपोर्ट्स के मुताबिक वैक्सीन की खरीद के लिए पाकिस्तान की सरकार ने लगभग 150 बिलियन डॉलर का बजट रखा हैं। पाकिस्तानी सरकार के प्रवक्ता की माने तो इस महीने के अंत तक या अगले महीने तक सिनोफार्म नाम की वैक्सीन वहां पहुंच जाएगी जिसके बाद टीकाकरण अभियान को शुरू किया जायेगा.

यह भी पढ़ें: गाय के गोबर से बना पेंट आज होगा लांच, इसको लगा डाला तो लाइफ झींगा लाला

Related Articles