IPL
IPL

पूर्व ISI चीफ असद दुर्रानी को पाकिस्तान ने बताया भारत का जासूस

इस्लामाबाद :  पाकिस्तानी सेना (Pakistani army) के बारे में कई अहम खुलासे करने वाले पूर्व ISI चीफ रिटायर्ड लेफ्टिनेंट जनरल असद दुर्रानी (Lieutenant General Mohammad Asad Durrani) को पाकिस्तान (Pakistan) ने भारत (India) का जासूस बता दिया है। पाकिस्तानी रक्षा मंत्रालय (Ministry of Defence) ने गृह मंत्रालय (home Ministry) को चिठ्ठी लिखकर जनरल असद दुर्रानी का नाम एग्जिट कंट्रोल लिस्ट (ECL) में बनाए रखने की गुहार लगाई है। रक्षा मंत्रालय ने ने कोर्ट को बताया कि उसके पास इस बात के पुख्ता सबूत है कि असद दुर्रानी 2008 से ही भारतीय ख़ुफ़िया एजेंसी रिसर्च एंड एनालिसिस विंग (RAW) से जुड़े हुए है।

बता दें कि पाकिस्तान (Pakistan) के पूर्व ISI चीफ रिटायर्ड लेफ्टिनेंट जनरल असद दुर्रानी और भारतीय ख़ुफ़िया एजेंसी RAW के पूर्व चीफ अमरजीत सिंह दुलत (A S Dulat) ने मिलकर एक किताब लिखी थी। जिसका नाम ‘द स्पाई क्रॉनिकल्स: रॉ, आईएसआई एंड द इल्यूज़न ऑफ पीस’ रखा था। इस किताब के छपने के बाद ही पाकिस्तान में खलबली मच गई थी। किताब में आतंकवादी ओसामा बिन लादेन को मारने के लिए अमेरिका और पाकिस्तान (Pakistan) के बीच डील को लेकर असद दुर्रानी के हवाले से लिखा गया है।

इसे भी पढ़े: आज रात तय होगा किसान आंदोलन का भविष्य, विपक्ष के समर्थन के बीच भारी फ़ोर्स तैनात

किताब छपने के बाद पाकिस्तानी मिलिट्री इंटेलिजेंस (MI) ने गृह मंत्रालय को पत्र लिखकर जनरल असद दुर्रानी (Asad Durrani )को ECL सूची में रखने का आग्रह किया था, जिसे दुर्रानी ने 2019 में इस्लामाबाद हाई कोर्ट में चुनौती दी थी।

Related Articles

Back to top button