नवाज के सवालों पर पाकिस्तान सरकार ने चला दांव, भाषण के प्रसारण पर लगाई रोक

नई दिल्लीः बीत कई दिनों से लगातार पाकिस्तान की सत्ता और फौज को चुनौती दे रहे नवाज शरीफ पर पाक सरकार एक्शन मोड में आ गई है। जिसके तहत पाकिस्तान सरकार ने देश में नवाज शरीफ के भाषणों के प्रसारण पर रोक गा दी है।

दरअसल इस्लामाबाद हाईकोर्ट ने लंदन में स्थित नवाज शरीफ को पाकिस्तान वापस आने के लिए समन भेजा था। जिसके बाद से ही पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ अपने कई बयानों में एक-एक कर पाकिस्तान की सत्ता फौज के हाथ में होने का दावा करते रहे हैं।

हाल ही में पाकिस्तान के प्रधानमंत्री ने अपने एक इंटरव्यू में नवाज शरीफ पर कई आरोप लगाए थे। जिसके बाद अब पाक सरकार ने अपने देश की मीडिया को नवाज के बयान का प्रसारण करने पर रोक लगा दी है।

गौरतलब है कि पाकिस्तान में इलेक्ट्रानिक मीडिया के नियामक का काम पाकिस्तान इलेक्ट्रॉनिक मीडिया नियामक प्राधिकरण (पेमरा) करती है। जिसकी अध्यक्षता सरकार से जुड़े लोग ही करते हैं। नवाज शरीफ ने जैसे ही लंदन से इमरान सरकार और पाकिस्तानी सेना के गठजोड़ का खुलासा करना शुरू किया, फौरन प्रशासनिक अमला हरकत में आया और उनके भाषण पर प्रतिबंध लगा दिया गया।

पेमरा ने नवाज शरीफ का साफ तौर पर संदर्भ देते हुए अपने बयान में कहा कि “पेमरा को भगोड़े और घोषित अपराधी के भाषण को प्रसारित करने के लिए कई चैनलों के खिलाफ शिकायत मिली है। भगोड़े और घोषित अपराधियों के भाषण, साक्षात्कार और जन सभा का प्रसारण और पुन प्रसारण करने पर रोक है”।

Related Articles