पाकिस्तान सरकार को लगा बड़ा झटका, चुनाव को लेकर सुप्रीम कोर्ट ने सुनाया बड़ा फैसला

इस्लामाबाद: पाकिस्तान (Pakistan) की सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) ने सोमवार को एक फैसला सुनाते हुए इमरान खान को बड़ा झटका दिया है। कोर्ट ने कहा है कि बुधवार को होने वाले सीनेट के चुनाव गुप्त मतदान के माध्यम से होंगे। भ्रष्टाचार से बचने के लिये खुले मतदान की इजाजत देने पर सत्तापक्ष और विपक्ष में चल रहे विवाद के बीच कोर्ट ने यह फैसला सुनाया है। साल 2020 दिसंबर में सरकार ने राष्ट्रपति के माध्यम से न्यायालय की राय जानने के लिये मामला भेजा था। इसी मामले में सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) की पांच सदस्यीय पीठ ने 4-1 से फैसला सुनाया है।

ऊपरी सदन के चुनाव

पाकिस्तान की सुप्रीम कोर्ट में यह याचिका चुनावों में रुपयों के इस्तेमाल से बचने के लिये उच्च सदन के लिए खुला मतदान कराने को लेकर डाली गई थी। कोर्ट का कहना है कि संसद के ऊपरी सदन के चुनाव पाकिस्तान के संविधान के अनुच्छेद 226 के तहत होंगे, जो मतपत्रों की गोपनीयता को बनाए रखता है। कोर्ट ने पाकिस्तान के निर्वाचन आयोग (ईसीपी) को निर्देश डेट हुए कहा है कि वह भ्रष्टाचार पर लगाम लगाने के लिए नवीनतम प्रौद्योगिकी का इस्तेमाल करे।

ये भी पढ़ें : हांगकांग के मामलों में हस्तक्षेप करने पर चीन ने इस बड़े देश को दी धमकी

चुनावों में पारदर्शिता बनाये रखें

चुनाव कराने में सभी संस्थानों को ईसीपी का सहयोग करना चाहिए। अपने फैसले में कोर्ट ने कहा है कि, “चुनावों में पारदर्शिता बनाये रखने की ईसीपी की जिम्मेदारी है।” सीनेट चुनावों में मतदान के तरीके को लेकर सुप्रीम कोर्ट ने गुरुवार को इस प्रकरण में अपनी सुनवाई पूरी की थी। मुख्य न्यायाधीश गुलजार अहदम पांच सदस्यीय बृहत पीठ की अध्यक्षता कर रहे थे।

ये भी पढ़ें : यूपी के बदमाशों से बेटी हुई लाचार, लड़की ने चीख-चीख सुनाई हैरान कर देने वाली वजह

Related Articles