हत्यारे को पनाह देना पकिस्तान को पड़ा मंहगा, अमेरिका ने अपनाया यह रुख

पकिस्तान में हुए अमेरिकी पत्रकार की हत्या के आरोपी की रिहाई के बाद पकिस्तान और अमेरिका में ज़बानी जंग जारी है।

नई दिल्ली: पकिस्तान में हुए अमेरिकी पत्रकार की हत्या के आरोपी की रिहाई के बाद पकिस्तान और अमेरिका में ज़बानी जंग जारी है। अमेरिकी पत्रकार डैनियल पर्ल ( American journalist Daniel Pearl ) के हत्यारे उम्र सईद को पकिस्तान ने रिहा कर दिया था, जिसके बाद अमेरिका ने कई बार पकिस्तान को इसके लिए चेताया है। लेकिन पकिस्तान फिर भी सुधरने का नाम नहीं ले रहा है।

अमेरिकी पत्रकार Daniel Pearl के हत्यारे के समर्थन में पाकिस्तान का प्रेम उमड़ पड़ा है, पाकिस्तानी सरकार ने अमेरिकी पत्रकार डेनियल पर्ल के हत्यारे उमर सईद शेख को रिहाई के बाद सरकारी रेस्ट हाऊस में रखने का प्लान बनाया है। इस बात पर पाकिस्तान सरकार की तरफ से आदेश भी जारी कर दिया गया है। पाकिस्तान के इस रवैय्ये से अमेरिका नाराज हो सकता है।

Pakistan is expensive to shelter the killer, America adopted this approach

दरअसल 2002 में कराची में ‘द वॉल स्ट्रीट जर्नल’ ( The Wall Street Journal ) के दक्षिण एशिया ब्यूरो प्रमुख डेनियल पर्ल (Daniel pearl)  पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी ISI और Al-Qaeda के बीच संबंधों को लेकर कुछ जानकारी बटोर रहे थे कि उसी दौरान उनका अपहरण कर सिर कलम करके उनकी हत्या कर दी गई थी। डेनियल पर्ल ( Daniel Pearl ) की हत्या के आरोप में अलकायदा आतंकी उमर सईद शेख ( Omar Saeed Sheikh ) को पकड़ा गया।

लेकिन पाकिस्तानी कोर्ट के आदेश के बाद उमर सईद को रिहा कर दिया गया जिससे अमेरिका ने नाराज़गी जताते हुए पकिस्तान को खुलेआम धमका दिया जिसके बाद पकिस्तान ने उमर सईद को सरकारी सुरछा दे दी। “एक्सप्रेस ट्रिब्यून” के मुताबिक अलकायदा आतंकी उमर सईद शेख को जेल से कराची ( Karachi ) केंद्रीय कारागार में एक नवनिर्मित रेस्ट हाउस में शिफ्ट किया जा रहा है।

यह भी पढ़े: शेयर बाज़ार में बड़ा उछाल, सेंसेक्स और निफ्टी अपने रिकॉर्ड स्तर पर

Related Articles

Back to top button