पुलवामा की जांच में सवालों के रोड़े अटका रहा पाकिस्तान, फिर जताया भारतीय हमले का डर

0

पुलवामा: जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में 14 फरवरी को हुए आतंकी हमले पर पाकिस्तान लगातार गलत बयानबाजी कर रहा है. भारत की तरफ से इस हमले में जैश-ए-मोहम्मद का हाथ होने के पुख्ता सबूत कई बार सौंपे गए लेकिन पाकिस्तान नकारता रहा. अब एक बार फिर पाकिस्तान ने इसकी जांच में रोड़े अटकाने का काम किया है.

पाकिस्तान ने गुरुवार को कहा कि उसने पुलवामा हमले में जैश-ए-मोहम्मद की संलिप्तता से जुड़े अपने डॉजियर में भारत को कुछ और सवाल सौंपे हैं और दावा किया कि नई दिल्ली ने आतंकी हमले पर कोई “कार्रवाई योग्य साक्ष्य” उपलब्ध नहीं कराए हैं.

‘भारत नहीं दे रहा सबूत’

पाकिस्तानी विदेश विभाग के प्रवक्ता मोहम्मद फैसल ने अपनी मीडिया ब्रीफिंग के दौरान कहा कि अब तक पूर्व में पूछे गए सवालों के जवाब भी भारत द्वारा नहीं दिए गए हैं.

फैसल ने कहा कि पाकिस्तान ने पुलवामा डॉजियर पर भारतीय उच्चायोग को कुछ और सवाल सौंपे हैं, हम भारत से साझा किए गए सवालों पर उनकी प्रतिक्रिया चाहते हैं.

पाकिस्तान ने एक बार फिर दावा कर रहा है कि भारत ने 14 फरवरी को जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में हुए आतंकी हमले के संबंध में अब तक कोई भी “कार्रवाई योग्य जानकारी” उपलब्ध नहीं कराई है. बता दें कि इस हमले में सीआरपीएफ के 40 जवान शहीद हो गए थे.

पाकिस्तान ने पहले कहा था उसे जैश-ए-मोहम्मद और पुलवामा आतंकी हमले में कोई संबंध नहीं मिला है.

‘भारत कर सकता है हमला’

पाकिस्तानी प्रवक्ता ने एक बार फिर कहा कि पाकिस्तान के पास “विश्वसनीय खुफिया जानकारी” है कि भारत इस महीने पाकिस्तान के खिलाफ “दुस्साहसिक” कार्रवाई कर सकता है. इससे पहले भी पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान ने कहा था कि हमें डर है कि भारत फिर से कोई अटैक कर सकता है.

बता दें कि पुलवामा आतंकी हमले का बदला लेने के लिए भारत ने पाकिस्तान के बालाकोट में एयरस्ट्राइक की थी. वहां पर जैश-ए-मोहम्मद का अड्डा मौजूद था, जिसे भारत की वायुसेना ने नष्ट करने का दावा किया है. तभी से पाकिस्तान लगातार कह रहा है कि भारत फिर से उनके देश पर हमला कर सकता है.

loading...
शेयर करें