प्रदर्शनकारियों पर आंसू के गोले छोड़ने पर पाक मंत्री का बेहूदा बयान

पाकिस्‍तान में सरकार के खिलाफ प्रदर्शन चल रहा है और प्रदर्शनकारियों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है।

इस्‍लामाबाद: पाकिस्‍तान में सरकार के खिलाफ प्रदर्शन चल रहा है और प्रदर्शनकारियों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है। पहले पाकिस्‍तान डेमोक्रेटिक मूवमेंट ( Pakistan Democratic Movement ) रैलियां चल रही थी लेकिन अब सरकारी कर्मचारी भी आंदोलन का हिस्सा बन चुके है। जिसकी वजह से पाकिस्तान सरकार ( Government of Pakistan ) की मुश्किलें बढ़ती हुई नजर आ रही है।

आपको बता दे कि प्रदर्शनकारियों  पर आंसू के गोले छोड़े गए थे जिसको लेकर पाकिस्‍तान के आंतरिक मंत्री शेख राशिद अहमद ( Sheikh Rashid Ahmed ) ने बेहुदा बयान देते हुए कहा कि ये गोले काफी समय से इस्‍तेमाल नहीं किए गए थे, लिहाजा ये जरूरी था कि इन्‍हें टेस्‍ट किया जाए।

प्रदर्शनकारियों पर दागे गए आंसू गैस

पाकिस्‍तान के अखबार द डॉन के मुताबिक रावलपिंडी ( Rawalpindi ) में एक समारोह के दौरान उन्‍होंने कर्मचारियों के विरोध प्रदर्शन का जिक्र करते हुए कहा कि प्रदर्शनकारियों पर काफी कम संख्‍या में इनका इस्‍तेमाल किया गया, ज्‍यादा नहीं किया गया।

अखबार की खबर के मुताबिक सरकारी कर्मचारियों की ये रैली शनिवार को हुई थी जिसमें आंदोलनकारियों को हटाने के लिए 1 या 2 नहीं बल्की 1 हजार आंसु गैस का इस्तेमाल किया गया था। आंदोलनकारी प्रदर्शनकारी सरकार से अपनी सैलरी में मंहगाई के मुताबिक इजाफा करने की मांग कर रहे थे। ये प्रदर्शन ऑल गवर्मेंट एंप्‍लॉइज ग्रांड एलाइंस ( All Government Employees Grand Alliance ) के नेतृत्‍व में किया गया था।

आंदोलन करने वाले लोगों को कहना था कि वो तब तक सचिवालय के बाहर बैठे रहेंगे जब तक सरकार इस पर सही फैसला नहीं ले लेती है। इन प्रदर्शनकारियों और सुरक्षाकर्मियों के बीच झड़प भी हुई। हालांकि बाद में सरकार ने इनकी मांगों को मान लिया।

यह भी पढ़ें: IND vs ENG: अश्विन ने भज्जी से इस बात के लिए मांगी माफी, हरभजन ने दिया मजेदार जवाब

Related Articles

Back to top button