45 साल बाद चीन में रिलीज होगी पाकिस्तानी फिल्म परवाज है जुनून

पाकिस्तान की कोई भी फिल्म चीन में चार दशकों से अभी तक रिलीज नहीं हुई है। चीन में पहली बार जो फिल्म रिलीज हो रही है, उसमे सैन्य कार्रवाई पर आधारित बनी फिल्म

चीन: पाकिस्तान की कोई भी फिल्म चीन में चार दशकों से अभी तक रिलीज नहीं हुई है। चीन में पहली बार जो फिल्म रिलीज हो रही है, उसमे सैन्य कार्रवाई पर आधारित बनी फिल्म चौथी पीढ़ी के लड़ाकू विमान जेएफ-17 की फ्रांस में निर्मित मिराज 2000 से तुलना को दिखाया गया है। गुरुवार को चीन ने मीडिया में बताया कि 45 साल बाद चीन में रिलीज होने वाली पाकिस्तान की पहली फिल्म ‘परवाज है जुनून’ है। यह साल 2018 में आई थी। इसका निर्देशन हसीब हसन ने किया है ।

चीन में पाकिस्तान की पहली फिल्म ‘परवाज है जुनून’ शुक्रवार को रिलीज हो रही है। इस फिल्म में पाकिस्तान और चीन के बीच सैन्य सहयोग को दर्शाया गया है। इस फिल्म में पाकिस्तान के सर्वश्रेष्ठ लड़ाकू विमान पायलट बनने की दो युवाओं की कहानी में कई चुनौतियों और बाधाओं को पार करते हुए दिखाया गया है। दोनों देशो के संयुक्त रूप से निर्मित चौथी पीढ़ी के लड़ाकू विमान जेएफ-17 को भी दिखाया है।

ये भी पढ़े : अफगानिस्तान में आईईडी विस्फोट में रेडियो स्टेशन के पत्रकार की मौत

खबर है कि फिल्म की स्क्रीनिंग में शामिल होने कई लोगों ने कभी पाकिस्तानी फिल्म नहीं देखी थी। इस फिल्म की स्क्रीनिंग में शरीक हुए चीन में पाकिस्तान के राजदूत मोइन-उल-हक ने दर्शकों से कहा कि और पाकिस्तानी फिल्मों और टीवी धारावाहिकों को चीन लाया जाएगा ताकि चीन के लोग पाकिस्तान की संस्कृति को बेहतर तरीके से समझ सकें। वर्ष 1956 में आई राजकपूर की फिल्म ‘आवारा’ चीनी दर्शकों पर काफी गहरी छाप छोड़ी थी।

Related Articles

Back to top button