नमाज के वक्त अफगान पर आतंकियों ने गिराई गाज, पाक ने की निंदा

इस्लामाबाद। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने मंगलवार को काबुल में रॉकेट हमले की निंदा की। यह हमला अफगानिस्तान के राष्ट्रपति अशरफ गनी के ईद-उल-जुहा के मौके पर एक भाषण के दौरान हुआ। अफगानिस्तान के विभिन्न हिस्सों में 10 रॉकेट गिरे, उस दौरान लोग नमाज अदा कर रहे थे।
रपट में ये कहा गया है कि तीन बंदूकधारियों ने राष्ट्रपति भवन पर उस समय रॉकेट दागे, जब अशरफ गनी वहां नमाज अदा कर रहे थे। किसी भी समूह ने हमले की जिम्मेदारी नहीं ली है।

इमरान ने कहा, “धार्मिक त्योहारों पर निर्दोष लोगों को निशाना बनाना पराजित मानसिकता को दिखाता है। हम इस कायर मानसिकता को हराने के लिए अफगानिस्तान के लोगों व सरकार के साथ हैं।”

पाकिस्तान विदेश मंत्रालय ने भी रॉकेट हमलों की निंदा की। अशरफ गनी द्वारा तालिबान विद्रोहियों के साथ तीन महीने के सशर्त संघर्षविराम के प्रस्ताव के दो दिन बाद रॉकेट दागे गए हैं।

Related Articles