पाकिस्तान के पूर्व पीएम नवाज शरीफ ने ISI पर लगाया आरोप, कहा- चुनावों के प्रभावित कर रही एजेंसी

इस्‍लामाबाद। पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने देश की खूफिया एजेंसी ISI पर चुनावों को प्रभावित करने का गंभीर आरोप लगाया है। दरअसल, उन्हें पनामा पेपर्स लीक मामले में हाल ही में पाक अदालत ने 10 साल की कैद की सजा सुनाई है। इस बीच उन्होंने पहली बार ISI के सीनियर अफसर का नाम लेते हुए एजेंसी पर आम चुनावों को प्रभावित करने के आरोप लगाया है।

पाकिस्तान में 25 जुलाई को होने हैं आम चुनाव

दरअसल, पाकिस्तान में 25 जुलाई को प्रधानमंत्री पद के लिए चुनाव होने हैं और नवाज को चुनाव लड़ने से अयोग्य करार दे दिया गया है। बीते कुछ दिनों से नवाज खुलकर पाक की कमियों को बता रहे हैं। हाल ही में उन्होंने सेना और पाक मीडिया पर चुनाव को दबाव बनाने का आरोप लगाया था। अब नवाज ने ISI के सीनियर ऑफिसर जनरल फैज हामिद का नाम लिया है। नवाज का कहना है कि जनरल हामिद आम चुनावों से पहले ही इसमें शामिल रहे हैं।

सेना डाल रही उम्‍मीदवारों पर दबाव

दरअसल, जनरल हामिद पाक खुफिया एजेंसी ISI में काउंटर इंटेलीजेंस विंग के मुखिया हैं। नवाज ने कहा है कि एजेंसी उनकी पार्टी पाकिस्‍तान मुस्लिम लीग-नवाज (पीएमएल-एन) के उम्‍मीदवारों को धमका रही है या फिर उन पर निर्दलीय उम्‍मीदवार बनकर चुनाव लड़ने का दबाव बना रही है।

ISI उम्मीदवारों पर निर्दलीय होने का दबाव डाल रही

नवाज ने आरोप लगाते हुए कहा, ‘फैज हामिद की टीम हमारे उम्‍मीदवारों पर जीप का चुनाव चिह्न मैदान में उतरने का दबाव डाल रही है, जिससे वह निर्दलीय उम्‍मीदवार के तौर पर चुनाव लड़ें।’ उन्‍होंने यह भी कहा कि हामिद की टीम उम्‍मीदवारों को पार्टी छोड़ने के लिए भी मजबूर कर रही है।

सेना नहीं चाहती पीएमएल-एन को दोबारा मिले सत्ता

पूर्व पाक प्रधानमंत्री नवाज शरीफ के मुताबिक, सेना के कुछ तत्‍व उनकी पार्टी पीएमएल-एन को दोबारा सरकार में नहीं आने देना चाहते हैं। इसीलिए वह पूरी टीम के साथ पार्टी के उम्मीदवारों पर पार्टी छोड़ने और निर्दलीय चुनाव लड़ने के लिए दबाव बना रही है।

पोलिंग बूथ पर सैनिकों की तैनाती का करेंगे विरोध

नवाज शरीफ ने चुनाव आयोग के पोलिंग स्‍टेशन पर सैनिकों को तैनात करना गलत है और पार्टी इसका विरोध करेगी। उनकी मानें तो उन्‍हें पोलिंग बूथ पर सेना भेजने वाले आदेश के पीछे का तर्क समझ ही नहीं आता है। नवाज तीन बार पाकिस्‍तान के प्रधानमंत्री रह चुके हैं।

हम को राजनीतिक दल नहीं- पाक सेना

वहीं शरीफ के आरोपों पर पाकिस्तानी सेना के प्रवक्‍ता जनरल आसिफ गफूर ने कदहा कि हम कोई राजनीतिक पार्टी नहीं है और उनकी कोई वफादारी नहीं है। नवाज के सभी आरोप गलत और बेबुनियाद हैं।

Related Articles