पंचायत चुनाव के नतीजों से साफ होगी विस चुनावों की तस्वीर

0

utt-haridwar chunav-1

हरिद्वार।  त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव में जिला पंचायत सदस्य पर सबसे पहले बसपा ने खाता खोलकर विपक्षी पार्टी के खेमे में हलचल मचा दी है। मंगलवार को कई अव्यवस्थाओं के बीच पंचायत चुनाव की मतगणना शुरू हुई। जिला पंचायत सदस्य पद की 47 सीटों में से केवल तीन सीटों की ही मतगणना मंगलवार देर रात पूरी हो सकी। ये तीनों ही सीटें बसपा, कांग्रेस और निर्दलीय उम्मीदवार के खाते में गईं। इन उम्मीदवारों के चुनाव परिणाम की आधिकारिक घोषणा जहां देर रात तक नहीं की गई थी वहीं बीडीसी की 221 सीटों में से 43 और ग्राम प्रधान के 308 पदों में से केवल 84 सीटों के ही नतीजे आ सके थे।

ये भी पढ़ें – इस गुफा में छिपा है दुनिया के खत्म होने का रहस्य!

utt-bsp-1

निवर्तमान जिला पंचायत अध्यक्ष अंजुम बेग के देवर और बसपा समर्थित उम्मीदवार सत्तार जिला पंचायत सदस्य का चुनाव जीत गए हैं। सत्तार को 2952 वोट मिले, जबकि उनके निकटतम प्रतिद्वंद्वी निर्दलीय उम्मीदवार को 2458 मत मिले। इस तरह उन्होंने 494 वोटों से जीत दर्ज की। इमलीखेड़ा सीट से कांग्रेस समर्थित प्रत्याशी बालेश को 5058 मत मिले, जबकि उनके निकटतम बसपा समर्थित उम्मीदवार सुचित्रा को 4156 मत मिले हैं। इस तरह बालेश ने 902 वोटों से जीत दर्ज की। दौलतपुर सीट से निर्दलीय प्रत्याशी भूप सिंह ने राव शकील को 135 वोटों से हराया। भूप सिंह को 3351 मत मिले जबकि राव शकील को 3216 वोट मिले।

utt-bsp-2

हरिद्वार की राजनीति में बसपा का अहम रोल हमेशा से रहा है, चाहे वो विधानसभा चुनाव हो या फिर पंचायत चुनाव। पूर्व में बसपा से निष्कासित किये गये पूर्व विधायक शहजाद के हटने से विपक्षियों ने राहत की सांस ली थी, लेकिन पंचायत चुनाव से ठीक पहले शहजाद की वापसी ने सभी को परेशान कर दिया। शहजाद की वापसी का असर पंचायत चुनाव में भी नजर आ रहा है। मोहम्मद शाहजाद ने कहा कि बोर्ड उन्हीं का बनेगा और जनता उनके साथ है। साथ ही समर्थन के प्रश्न पर कहा कि जिसे समर्थन देना होगा, वो उनके पास आएगा। उन्होंने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि अगर वो समर्थन देगी, तो वे उनका भी समर्थन ले लेंगे। हालांकि अंतिम फैसला मायावती लेंगी जो सभी को मान्य होगा। उन्होंने ये भी कहा कि 2017 के विस चुनावों में बसपा के पास कम से कम 10 सीटें होंगी। वहीं बसपा से जिला पंचायत सदस्य की सीट पर जीतकर आए मोहम्मद सत्तार का कहना है कि विकास उनकी प्राथमिकता रहेगी।

ये भी पढ़ें – ऐसे सरकारी स्कूल शायद देश के किसी प्रदेश में नहीं होंगे

utt-haridwar chunav-2

पंचायत चुनाव में बसपा और कांग्रेस के बीच सीधा मुकाबला देखने को मिल रहा है। दाबकी कला और ढांढेकी सीट पर भाजपा आगे चल रही है। आधिकारिक रूप से जिला पंचायत चुनाव का एक भी नतीजा घोषित नहीं किया गया है। जिला निर्वाचन अधिकारी हरबंश सिह चुघ ने बताया कि मतगणना अंतिम परिणाम आने तक जारी रहेगी। मतगणना के बुधवार को भी पूरे दिन चलने की उम्मीद जताई जा रही है। मतगणना स्थल पर उम्मीदवारों और समर्थकों की भारी भीड़ जुटी है। इसके साथ ही पुलिस और प्रशासन ने भी सुरक्षा के कड़े इंतजाम किये हैं।

utt-haridwar chunav-3

आपको बता दें कि 4312 सीटों के लिए कुल 10 हजार 797 उम्मीदवार मैदान में उतरे थे। हरिद्वार जनपद के छह ब्लॉकों में तीन चरणों में 21, 27 दिसम्बर और 2 जनवरी को मतदान हुआ था. जिला पंचायत सदस्य पद की 47 सीटों पर 652, बीडीसी की 221 सीटों पर 2210, ग्राम प्रधान के 308 पदों पर 2176 और ग्राम पंचायत सदस्य के 3736 पदों पर 5759 उम्मीदवार मैदान में हैं। मतगणना में आठ सौ कर्मचारियों की ड्यूटी लगायी गयी है। मतगणना में पारदर्शिता बनाए रखने के लिए पहली बार हर मतगणना केंद्र पर सीसीटीवी कैमरे भी लगाए गए हैं। सीसीटीवी का कंट्रोल रूम रोशनाबाद कलेक्ट्रेट में बनाया गया है। मतगणना के चलते सभी जगह सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं। इस दौरान प्रशासन ने किसी भी तरह का जुलूस निकालने पर पूरी तरह प्रतिबंध लगाया है।

loading...
शेयर करें