सरकार के लिए मुसीबत बनीं अब चुनावी रंजिशें

350x350_IMAGE43126506

लखनऊ। पंचायत चुनाव के बाद सूबे में तेजी से बढ़ रही आपसी रंजिश की घटनाओं से परेशान यूपी सरकार के पुलिस महानिदेशक ने सभी जिलों के पुलिस कप्तानों को पत्र लिख कर ऐसी घटनाओं से सख्ती से निपटने के निर्देश दिए हैं।

चुनाव बाद आपसी रंजिश के कारण बुधवार को उन्नाव में कुछ अपराधी तत्वों ने एक महिला प्रधान की नाक काट ली। घायल प्रधान को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। इससे पहले भी इसी तरह जीते और हारे प्रधानों के गुटों के बीच झगड़ों की घटनाएं प्रतापगढ़, सुल्तानपुर, पीलीभीत सहित कई जिलों में हो चुकी हैं। राज्य के पुलिस महानिदेशक ने इस घटनाओं को गंभीरता से लेते हुए ऐसी घटनाओं से सख्ती से निपटने के निर्देश जिलेे के पुलिस अधिकारियों को दिए हैं।

नए समीकरणों की समीक्षा करें

जिलों के पुलिस अधिकारियों को भेजे गए डीजीपी के पत्र में कहा गया है कि पुलिस अधीक्षक ग्राम पंचायतों के नए समीकरणों की समीक्षा करें और असमाजिक तत्वों के लिए तत्काल एक्शन लें और घटनाओं के लिए दोषी लोगों की गिरफ्तारियां कराएं। साथ ही नए समीकरणों के अनुसार अब ग्राम पंचायतों का अति संवेदनशील और संवेदनशील के रूप में फिर से वर्गीकरण करें। इसके अलावा एएसपी स्तर के अधिकारियों को भेज कर वहां की समीक्षा कराएं तथा वहां जरूरत के अनुसार पिकेट, गश्त लगाने और अस्थाई चौकी खुलवाने के बारे में भी निर्णय लें। डीजीपी ने कहा कि यह सुनिश्चित किया जाए कि आपसी रंजिश की घटनाएं किसी भी हालत में साम्प्रदायिक रंग न लें पाएं।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button