IPL
IPL

Panchayat Election: ग्राम प्रधान और BDC के लिए कौन सा गांव हुआ आरक्षित, यहां देख सकेंगे लिस्ट

लखनऊ: उत्तर प्रदेश में पंचायत चुनाव को लेकर तैयारियां जोरो शोरो पर चल रही हैं। उत्‍तर प्रदेश शासन की ओर से मंगलवार को त्रिस्‍तरीय पंचायत चुनाव की आरक्षण लिस्‍ट जारी होने के बाद पता चल जाएगा कि कौन सी सीट किस श्रेणी में आरक्षित होगी और कौन सी सीट आरक्षित से सामान्य हो जाएगी।

बता दें कि मंगलवार यानी दो मार्च को जारी होने वाली आरक्षण सूची को लेकर 8 मार्च तक आपत्तियां दर्ज कराई जा सकेंगी। वहीं 12 मार्च तक इन आपत्तियों का निस्‍तारण कर 15 मार्च को फाइनल लिस्‍ट जारी कर दी जाएगी। हालांकि यूपी सरकार ने फैसला लिया था कि इस बार आरक्षण में रोटेशन सिस्टम का पालन किया जाएगा। इसी आधार पर जिलों में लिस्ट तैयार की गई है।

यहां देख सकेंगे लिस्ट

बताया जा रहा है कि ग्राम पंचायत सदस्य के लिए आरक्षित और अनारक्षित सीटों की लिस्ट ग्राम पंचायत मुख्यालय पर लगाई जाएगी। वहीं ग्राम प्रधान से लेकर जिला पंचायत सदस्य के पदों के लिए आरक्षण की सूची ब्‍लॉक और जिला पंचायत मुख्यालय पर लगाई जाएगी।

Up panchayat elections can the Pradhan chunav be postponed guidelines are  not released election commission tenure is being completed on 25 December -  यूपी पंचायत चुनाव : क्या टल सकता हैं प्रधान

इतने पदों पर होंगे चुनाव

उत्‍तर प्रदेश में जिला पंचायत सदस्यों की 3 हजार 51 ब्लॉक प्रमुखों की 826, क्षेत्र पंचायत सदस्यों की 75 हजार 855, ग्राम प्रधान पद की 58 हजार 194 और ग्राम पंचायत सदस्यों की 7 लाख 31 हजार 813 सीटें हैं। इनमें एक फीसदी सीटें अनुसूचित जनजाति, 21 फीसदी अनुसूचित जाति, 27 फीसदी अन्य पिछड़ा वर्ग और एक तिहाई महिलाओं के लिए रिजर्व हैं। जबकि 51 फीसदी सीटें अनारक्षित हैं।

अप्रैल में हो सकते हैं चुनाव

यूपी पंचायत चुनाव को लेकर चुनाव आयोग तेजी से तैयारियां कर रहा है। मंगलवार को आरक्षण की लिस्ट जारी करने के बाद चुनाव की तारीखों को लेकर गहन मंथन शुरु हो जाएगा। माना जा रहा है कि उत्तर प्रदेश चुनाव आयोग 25-26 मार्च तक पांचों पदों के चुनाव के लिए अधिसूचना जारी कर सकता है। वहीं अप्रैल से नामांकन की प्रक्रिया शुरू हो जाएगी। 10 अप्रैल से चुनाव कराने जाने की बात कही जा रही है।

यह भी पढ़ें: Narendra Modi Stadium की पिच के बारे में Shoaib Akhtar ने दिया बेहूदा बयान

Related Articles

Back to top button