ख्याल शैली में गायन के लिए मशहूर पंडित Rajan मिश्र का हुआ निधन

वाराणसी : बनारस घराने के मशहूर गायक पंडित Rajan मिश्र का रविवार को निधन हो गया। उन्हें गंभीर हालत में दिल्ली के सेंट स्टीफंस अस्पताल में भर्ती कराया गया था। राजन मिश्र कोरोना पॉजिटिव थे। जहाँ कुछ मीडिया रिपोर्ट्स में उनकी मौत की वजह दिल का दौरा बताई जा रही है वहीँ कुछ में कहा जा रहा है की अस्पताल में वक़्त रहते बेड न मिलने से उनका निधन हुआ है।

लता मंगेशकर ने भी Rajan के निधन पर जताया  शोक

इस कड़ी में प्राइम मिनिस्टर मोदी ने उनके निधन पर दुःख ज़ाहिर करते हुए सोशल मीडिया पर दिए अपने बयान में कि शास्त्रीय गायन की दुनिया में अपनी छाप छोड़ने वाले पंडित राजन मिश्र जी के निधन से अत्यंत दुख पहुंचा है। बनारस घराने से जुड़े मिश्र जी का जाना कला और संगीत जगत के लिए एक अपूर्णीय क्षति है। शोक की इस घड़ी में मेरी संवेदनाएं उनके परिजनों और प्रशंसकों के साथ हैं।

आप की जानकारी के लिए बता दें कि राजन मिश्र और उनके भाई साजन मिश्र ख्याल शैली में गायन के लिए मशहूर थे। भाइयों की इस जोड़ी को 1971 में भारत सरकार ने संस्कृत अवार्ड से नवाज़ा था। इस के साथ साथ इन्हें  गंधर्व सम्मान, संगीत नाटक अकादमी अवार्ड और पद्म भूषण से भी नवाजा जा चुका था।

1951 में जन्मे राजन मिश्र ने अपने दादा पंडित बड़े राम जी मिश्र और पिता पंडित हनुमान मिश्र से संगीत की शुरुआती शिक्षा ली थी। इसके बाद वह दिल्ली चले गए थे। उन्होंने अपने भाई साजन मिश्र के साथ 400 साल पुराने बनारस घराने की परंपरा को आगे बढ़ाया। उन्होंने अपना पहला कॉन्सर्ट श्रीलंका में किया था।

 यह भी पढ़ें : इस्राइली पुलिस और फिलिस्तीनीओं के बीच हुए बवाल से गरमाया Jerusalem का माहौल

Related Articles