शांति वार्ता के बीच मची दहशत, बम धमाको से दहला अफगानिस्तान

दिल्ली: अफगानिस्तान में तीन जगहों पर बड़ा धमाका हुआ है। इस हमले में चार सरकारी कर्मचारियों और चार पुलिसकर्मियों की मौत हो गई है। अफगानिस्तान (Afghanistan) में इन दिनों शांति वार्ता चल रही है और इस दौरान यह हिंसा की घटनाएं बहुत ही भयावा है। अमेरिका और अफगानिस्तान (Afghanistan) के बीच एक समझौते की बात चल रही थी कि अमेरिका के सैनिको को वापस बुलाया जाए। समझौते पर हस्ताक्षर भी हो गए। उसके बाद भी देश में आतंकी हमले नहीं रुक रहे है। अधिकारियों का कहना है कि फिलहाल किसी ने इन हमलों की जिम्मेदारी नहीं ली है।

बंदूकधारियों के हमले में ग्रामीण विकास मंत्रालय के चार कर्मचारी ढेर हो गए। काबुल के पुलिस प्रमुख के प्रवक्ता एफ फरमराज ने जानकारी दी है कि बाग-ए दाउद इलाके में बंदूकधारी हमलावरों ने ग्रामीण विकास मंत्रालय के चार कर्मचारी गोलियों से भून दिया। पुलिस इस मामले की जांच में जुटी है। उन्होंने बताया कि काबुल में एक अन्य जगह पर स्टिकी बम में विस्फोट से एक सरकारी कर्मचारी घायल हो गया। प्रांतीय गवर्नर वाहिद कताली ने बताया कि हेरात प्रांत के जेंदा जान जिले में एक धमाका हुआ, जिसमें पुलिस की एक गाड़ी इस धमाके में छतिग्रस्त हो गई। इस विस्फोट में चार पुलिसकर्मियों की मौत हो गई जबकि एक घायल है।

ये भी पढ़ें : वैलेंटाइन डे बनाना है खास तो पार्टन को लेकर जाए यहां, बीतेंगे खुशी के पल

हिंसा का मामला नहीं थमा

पिछले साल फरवरी में अमेरिका-तालिबान समझौते पर हस्ताक्षर किया गया था। इस समझौते में साफ था मई आखिरी तक अफगानिस्तान से अमेरिकी सेनाओं की पूरी तरह से वापसी होगी। इसके बाद भी हिंसा का मामला नहीं थमा बल्कि बढ़ता गया। आए दिन यहां के पर हमला होता है। अभी दो दिन पहले ही राजधानी काबुल में एक बम धमाका हुआ था। इस हादसे में दो लोग घायल हो गए थे। बताया गया कि हमलावरों ने काबुल पुलिस के वाहन को विस्फोट के लिए इस्तेमाल किया।

ये भी पढ़ें : तोड़े गए मंदिर पर पाकिस्तान के सुप्रीम कोर्ट ने दिया बड़ा आदेश

Related Articles

Back to top button