IPL
IPL

कोरोना की दूसरी लहर का दहशत, प्रवासी मजदूरों का पलायन फिर से शुरू

देश में कोरोना वायरस की दूसरी लहर के प्रकोप से फिर से देशवासी परेशान नजर आ रहे हैं।

नई दिल्ली: देश में कोरोना वायरस की दूसरी लहर के प्रकोप से फिर से देशवासी परेशान नजर आ रहे हैं। मार्च 2020 में देश में जैसा नजारा था एक बार फिर वैसा ही कुछ कुछ नजारा देखने को मिल रहा है। क्योंकि कोरोना के दूसरे लहर में लोगों को फिर से देश में लॉकडाउन का डर सता रहा है। इस कारण प्रवासी मजदूरों का पलायन फिर से शुरू हो गया है। हालांकि भारतीय रेलवे द्वारा इस बार स्पेशल ट्रेने भी चलाई जा रही हैं। लेकिन इस बीच एक बार फिर महानगरों से प्रवासी मजदूरों का पलायन शुरू हो चुका है।

आपको बता दें कि बीते कल दिल्ली के आनंद विहार टर्मिनल पर बड़ी संख्या में प्रवासी मजदूर अपने गृह राज्यों की ओर जाते दिखे। प्रवासी मजदूरों की मानें तो उनको लॉकडाउन का डर सता रहा है। उनका कहना है कि अगर लॉकडाउन जैसी स्थिति अगर बनती है तो वो यहां फंसना नहीं चाहते हैं। इस कारण वे अपने घरों की ओर रवाना हो रहे हैं। बता दें कि बीते साल लॉकडाउन के समय यातायात सेवाएं बाधित हो जाने के कारण प्रवासी मजदूरों को पैदल व अन्य साधनों से अपने घरों की ओर जाने के लिए मजबूर होना पड़ा।

लगा दिया गया नाइट कर्फ्यू

देश के कई राज्यों में वीकेंड लॉकडाउन तथा नाइट कर्फ्यू लगा दिया गया है। राजधानी दिल्ली में 30 अप्रैल तक के लिए नाइट कर्फ्यू लगाया जा चुका है जो रात की 10 बजे से सुबह के 5 बजे तक रहेगा। साथ ही दिल्ली में कई चीजों पर पाबंदियां बढ़ती जा रही हैं। ऐसे में मजदूरों को व आम आदमी को लॉकडाउन का डर सताने लगा है। इसी कड़ी में भारतीय रेलवे द्वारा कई स्थानों के लिए स्पेशल ट्रेनों का संचालन भी शुरू किया जा रहा है। ताकि अपने गृह राज्य जाने वालों को किसी तरह की दिक्कत का सामना न करना पड़े।

यह भी पढ़ें: Farmers Protests: टिकैत ने कहा जरूरत पड़ने पर 2023 तक चलेगा किसान आंदोलन, शाहीन बाग जैसा बर्ताव नहीं होना चाहिए

Related Articles

Back to top button