32 साल पहले पप्पू यादव की हुई थी गिरफ्तारी, अब हुई रिहाई, बांटी गई मिठाई

पटना: मधेपुरा कोर्ट (Madhepura Court) ने जन अधिकार पार्टी (JAP) के अध्यक्ष पप्पू यादव को बाइज्जत बरी कर दिया है। इस पर पार्टी कार्यकर्ताओं में खुशी की लहर दौड़ पड़ी। उनकी जमानत मंजूर होने की खबर मिलते ही पटना के मंदिरी स्थित जाप कार्यालय में कार्यकर्ता एकत्रित होने लगे।

जाप के राष्ट्रीय अध्यक्ष पप्पू यादव को 32 साल पुराने एक केस में गिरफ्तार किया गया था। पिछले कई महीनों से वो जेल में बंद थे। इस मामले में कोर्ट में चली सुनवाई के बाद सोमवार को उन्हें बेल मिला और वो जेल से बाहर आये।

कार्यकर्ता इतने खुश हुए ये सुनकर की उन्हें बाइज्जत बरी कर दिया गया है तो कार्यकर्ताओं ने एक-दूसरे को अबीर-गुलाल लगाकर व मिठाई बांट कर इसकी खुशियां मनाई। जाप के प्रदेश अध्यक्ष राघवेन्द्र के ने पप्पू यादव (Pappu Yadav) की रिहाई को जनता की जीत बताया और कहा कि सत्य परेशान हो सकता है, पराजित नहीं। हम लोग देश के संविधान और न्याय प्रक्रिया में भरोसा रखते हैं, जिसके सामने साजिशों का परास्त होना तय था।

JAP के राष्ट्रीय महासचिव ने जाहिर की खुशी

JAP के राष्ट्रीय महासचिव प्रेमचंद सिंह ने अपने नेता पप्पू यादव के बाइज्जत बरी होने पर खुशी जाहिर की है। उन्होंने कहा ‘सत्यमेव जयते,’ आज सत्य की विजय हुई है। भाजपा सरकार के झूठ का पर्दाफाश हुआ है। हमारे नेता ने कोरोना महामारी के दौरान असंख्य लोगों का जीवन बचाने का काम किया।

साजिश के तहत गिरफ्तार

अस्पताल माफिया, एंबुलेंस चोर सांसद और बीजेपी के दबाव में बिहार सरकार ने उन्हें साजिश के तहत गिरफ्तार कर जेल भेजा था। उन्होंने कहा कि कोरोना काल में जनसेवा को लेकर हाल ही में इंडियन मेडिकल असोसिएशन (IMA) ने उन्हें सम्मानित किया था। देश के करोड़ों लोगों की दुआ कबूल हुई और सत्य की जीत हुई।

Related Articles