पप्पू यादव का बड़ा आरोप- अधिकारियों के इशारे पर हुई रूपेश सिंह की हत्या

पटना: बिहार (Bihar) की राजधानी पटना (Capital Patna) में रूपेश सिंह हत्याकांड के बाद विपक्ष अपना तंज कस रही है। जन अधिकार पार्टी के संरक्षक और पूर्व सांसद पप्पू यादव ने आरोप लगाया है कि इंडिगो के स्टेशन मैनेजर रूपेश सिंह की हत्या में बिहार सरकार के बड़े नेता, अफसर और माफिया शामिल हैं। साथ ही पप्पू यादव ने आरोप लगाया कि रूपेश की संलिप्तता पीएचईडी विभाग और बिजली विभाग के ठेकों में थी। पीएचईडी विभाग के अंतर्गत दरभंगा में नहर का ठेका जिस कंपनी को प्राप्त हुआ था, उसमें भी रूपेश की संलिप्तता थी।

उन्होंने एक बड़ा आरोप लगाया है कि रूपेश पीएचईडी विभाग और बिजली विभाग के ठेकों में शामिल होने के कारण रुपेश की हत्या कराई गई है। इसमें सरकार के बड़े-बड़े नेता, अफसर और माफिया शामिल हैं। सांसद पप्पू ने नीतीश सरकार से मांग की है कि वह पूरे हत्याकांड की निष्पक्ष जांच करवाए।

सांसद ने यह भी आरोप लगाया कि बिहार सरकार के विभिन्न विभागों में प्रशासनिक अनियमितता हो रही है। उन्होंने कहा कि 2018 में बिहार स्टेट पावर होल्डिंग कॉरपोरेशन लिमिटेड के द्वारा बिना योग्यता प्राप्त 5 महिलाओं को ट्रेनिंग के लिए विदेश भेजा गया था। इतना ही नहीं पप्पू यादव ने एक जिलाधिकारी के ऊपर भी आरोप लगाया कि वे नियमों का उल्लंघन करते हुए दूसरे जिले के अपराधियों को 70 हथियारों का लाइसेंस जारी कर रहे हैं।

यह भी पढ़ें: अरविंद शर्मा की इंट्री से मचा हड़कंप, अब मंत्रियों की नहीं हो सकेगी कमाई

 

Related Articles