लापता बच्चों का इंतजार कर रहे माता-पिता

कानपुर। शहर से बच्चे लापता हो रहे हैं। लेकिन पुलिस उन्हें ढूंढ नहीं पा रही है। कई बच्चों का पता तो उनकी लाश मिलने पर चल पाया है। वहीं आधा दर्जन से अधिक बच्चों के माता पिता अपने लाडले के इन्तजार में भटक रहे हैं। मानव तस्करी का शिकार होने का भी अंदेशा हो रहा है।

कई थाना क्षेत्रों से बच्चे गायब हो चुके है। जिनमें एक की तो बुधवार की रात लाश भी मिल गई है। शहर में बीते चार-पांच दिनों से कई थाना क्षेत्रों से बच्चे गायब होने से पुलिस प्रशासन पर सवालिया निशान लग रहा है। पुलिस भी बच्चों के गायब होने के पीछे नाराजगी से चले जाने की बात कहती या फिर दबाव पड़ने पर गुमशुदगी दर्ज कर इतिश्री कर लेती है। जिससे परिजनों में पुलिस के खिलाफ आक्रोश व्याप्त है।

एसएसपी शलभ माथुर ने बताया कि जिन-जिन थाना क्षेत्रों से बच्चे गायब हुए है, उन थानाध्यक्षों को सख्त निर्देश दिए गए हैं कि परिजनों से पूरी स्थिति की जानकारी कर टीम बनाकर बच्चों को जल्द से जल्द खोजे।

यह बच्चे लापता हुए

महाराजपुर थाना क्षेत्र के कुलगांव से राकेश का नाबालिग लड़का संदीप गायब है। राकेश के अनुसार संदीप घर से बाजार के लिए निकला था। गोविंदनगर का नाबालिग शेर सिंह लापता है। पिता अर्जुन सिंह ने बताया कि घर से अपने दुकान नौबस्ता जाने के बाद से उसका कुछ नहीं पता। बर्रा से विवेक शुक्ला का नाबालिग लड़का पप्पू भी लापता है। कल्याणपुर में अर्श गायब हुआ था जिसका रात में शव बरामद हो गया है।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button