परेश रावल का तंज, कहा- 2019 का पहला रुझान आया, ’40 लाख’ वोटों से विपक्ष पीछे

नई दिल्ली। असम में जारी हुए नेशनल रजिस्टर फॉर सिटीजन्स (एनआरसी) को लेकर सियासी हंगाम जारी है। विपक्ष एनआरसी के मुद्दे लेकर सरकार पर हमलावर है। इस मुद्दे को लेकर वह आंदोलन तक पर उतारू है। जबकि सरकार का कहना है कि वो सबकुछ सुप्रीम कोर्ट के निगरानी में कर रही है। इसकी वजह से देश की जनता को कोई नुकसान नहीं होगा। इस मुद्दे को लेकर सदन में तीन दिन से हंगाम अबरप रहा है। इसी कड़ी में अभिनेता और बीजेपी सांसद परेश रावल ने विपक्ष पर तंज किया है।

परेश रावल

परेश रावल ने ट्विट पर लिखा कि 2019 का पहला रुझान आ गया है, ‘विपक्ष ”40 लाख ” वोटों से पीछे चल रहा है।’ आपको बता दें कि असम में एनआरसी की रिपोर्ट आने के बाद अब बीजेपी नेताओं की मांग है कि देश के अन्य हिस्सों में भी ये रिपोर्ट जारी की जाए।

वहीँ विपक्ष इस मुद्दे राजनीती करने में लगा है। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री इसका विरोध कर रही हैं। उन्होंने कहा था कि अगर बंगाल में एनआरसी लाया गया तो गृह युद्ध छिड़ सकता है। ममता ने बीजेपी पर एनआरसी के जरिए वोटबैंक की पॉलीटिक्स का आरोप भी लगाया है। इस मुद्दे को लेकर बुधवार को उन्होंने राहुल गाँधी और सोनिया गाँधी से मुलाकात की।

उल्लेखनीय है कि ये बवाल तब उठा जब असम में सोमवार को नेशनल रजिस्टर फॉर सिटीजन की दूसरी ड्राफ्ट लिस्ट का प्रकाशन कर दिया गया। कुल 3.29 करोड़ आवेदकों में से 40 लाख से ज्यादा लोगों को बाहर कर दिए गए। NRC का पहला मसौदा 1 जनवरी को जारी किया गया था, जिसमें 1.9 करोड़ लोगों के नाम थे। दूसरे ड्राफ्ट में पहली लिस्ट से भी काफी नाम हटाए गए हैं। इस रिपोर्ट के मुताबिक 24 मार्च 1971 पहले से देश में रह रहे लोगों को ही नागरिक माना गया है।

Related Articles