संसद मानसून सत्र : पहले दिन 30 सांसद और 50 कर्मचारी मिले कोरोना पॉजिटिव

नई दिल्ली: संसद का मानसून सत्र सोमवार को शुरू हो गया है। पहले दिन सत्र में बैठक के लिए जाने वाले सांसदों और सचिवालय कर्मचारियों की कोरोना जांच की गई। जिसमें 30 सांसदों और 50 कर्मचारी कोरोना वायरस से संक्रमित मिले। एक अखबार के सूत्रों ने बताया संसद की बैठक में ये हिस्सा नहीं ले पाए, इन सभी कोविड पॉजिटिव लोगों को अलग आइसोलेशन के लिए भेज दिया गया।

बता दें सोमवार से शुरू सत्र का आज दूसरा दिन है। संसद की कार्यवाही 1 अक्टूबर तक चलेगी। कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए संसद की कार्यवाही को दो शिफ्ट में बांटा गया है।

ख़बरों के मुताबिक 30 सांसदों में सबसे ज्यादा भाजपा फिर कांग्रेस और अन्य दल के सांसदों की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आयी है। जो कार्यवाही में हिस्सा नहीं ले सके और उन्हें अलग आइसोलेशन के लिए भेज दिया गया।

संसद के दोनों सदनों की कार्यवाही कई बदलावों के साथ शुरू हुई। सोशल डिस्टेंसिंग और स्वस्थ देखभाल के कड़े नियमों के साथ सदन की कार्यवाही संचालित हुई। पहले दिन लगभग साढे टीम सौ सांसदों ने सदन की कार्यवाही में हिस्सा लिया है।

मोबाइल ऐप से सांसदों ने लगायी हाज़री –

सदन की कार्यवाही शुरू करने से पहले कोविड प्रोटोकोलों का पूरा पालन किया गया। संसद के सत्र में बैठक लेने वाले सांसदों और सचिवालय कर्मचारियों ने मोबाइल ऐप से हाज़री लगायी। इस दौरान कई सांसदों को हाज़री लगाने में समस्या भी आयी जिनके सहायता उनके साथी सांसद करते हुए दिखायी दिए।

पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी को दी गई श्रद्धांजलि –

कोरोना संक्रमण को ध्यान में रखते हुए आधा दिन राज्यसभा और आधा दिन लोकसभा की कार्यवशीं निर्धारित की गयी है। मानसून सत्र के पहले दिन सदन की कार्यवाही शुरू होते ही सबसे पहले पूर्व राष्ट्रपति को श्रद्धांजलि दी गई। जिसके बाद टीम बजे तक कार्यवाही को स्तगित कर दिया गया।

Related Articles

Back to top button