#PathankotAttacks एसपी ने कहा, आतंकी मुझे दोबारा मारने आए थे

0

pathankot-sp-568a426e604a3_exlst

पठानकोट। पठानकोट में हमले से एक दिन पहले आतंकियों ने जिस वरिष्‍ठ पुलिस अधीक्षक (एसएसपी) का अपहरण किया था, उन्‍होंने अहम खुलासा किया है। एसएसपी सलविंदर सिंह ने बीबीसी से बातचीत में बताया कि जहां आतंकियाें ने उन्‍हें छोड़ा था, दोबारा मारने वहीं आए थे।

पढ़ें : मेरे सामने आतंकियों ने बताया पठानकोट हमले का प्‍लान

31 दिसंबर की रात सलविंदर सिंह, राजेश वर्मा और मदन गोपाल जब पठानकोट से गुरदासपुर आ रहे थे तब गाड़ी समेत उनका अपहरण कर लिया गया था। गाड़ी में उनका एक दोस्‍त ड्राइवर और रसोइया भी था।

सलविंदर सिंह ने बताया कि पूरी घटना ने उन्हें हिलाकर रख दिया है और वो “भगवान के शुक्रगुज़ार हैं कि जीवित बच गए।” सलविंदर ने कहा, “मैं मानसिक तौर पर ठीक नहीं हूं, मेरी तबियत ठीक नहीं है। मुझे वो दृश्य याद आ रहे हैं, इसलिए मुझे नींद नहीं आ रही है। मेरे साथ जो कुछ हुआ है, सोच-सोचकर ऐसा लग रहा है कि मेरी नाड़ी न फट जाए।”

खबरों के मुताबिक आतंकियों को इस बात की जानकारी नहीं थी कि सलविंदर एसएसपी हैं। जैसे ही उन्‍हें पता चला, वह दोबारा उसी जगह पहुंचे, जहां उन्‍होंने सलविंदर को छोड़ा था।

हालांकि सलविंदर ने घटना की सूचना अपने वरिष्‍ठ अधिकारियों को दे दी थी।अपहरण होने से दो दिन पहले ही उनका तबादला पंजाब आर्मर्ड पुलिस (पीएपी) में असिस्टेंट कमांडेंट के पद पर हुआ था।

सलविंदर सिंह ने कहा कि वो ऊपरवाले का शुक्र अदा करते हैं कि वो ज़िंदा बच गए।उन्होंने घटना के बारे में वरिष्ठ अधिकारियों को बता दिया था और उन्हें उस जगह या गांव का पता नहीं जहां उन्हें छोड़ा गया था।

loading...
शेयर करें