#PathanKotAttacks: +92 3000597212 यह नंबर है आतंकियों के उस्ताद का

pathankot-air-base759

पठानकोट। पठानकोट हमले को लेकर एक बहुत बड़ी खबर आ रही है। एक अंग्रेजी अखबार की खबरों में दो नंबरों को बताया गया है। अखबार ने अपनी खबरों में यह दावा किया है कि ये दोनों नंबर वही हैं जिसमें आतंकियों ने हमले से पहले पाकिस्तान में बात की थी।

यह भी पढ़ें : #PathanKotAttacks : अब पॉलीग्राफ टेस्ट में सच उगलेंगे एसपी 

पाकिस्तानी पीएम करा लें जांच
अंग्रेजी अखबार ने यह दावा किया है कि अगर इन नंबरों में कोई शक है तो पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ इन नंबरों की जांच करा लें। खबरों में लिखा है कि दोनों नंबरों में से एक एक नंबर आतंकी की मां का है जबकि दूसरा नंबर उसके उस्ताद का है। ये हैं दोनों नंबर: 92-3017775253 और +92 300097212।

यह भी पढ़ें : आतंकी मसूद अजहर ने लाहौर में रची पठानकोट हमले की साजिश

उस्ताद के नाम से बुला रहे थे

अखबार ने लिखा है कि खुफिया विभाग ने कहा है कि आतंकी हैंडलर को उस्ताद के नाम से बुला रहे थे जब वे पंजाब में दाखिल हुए और अपने पोजिशन की जानकारी उन्हें दे रहे थे। पहला कॉल आतंकियों ने +92 300097212 पर करीब 9.12 बजे रात को 31 दिसंबर को किया। यह कॉल आतंकियों ने टैक्सी ड्राइवर इकरार सिंह के फोन से किया जिसे उन्होंने बाद में मार दिया। आतंकी दूसरी ओर पाकिस्तान में बैठे शख्स को उस्ताद के नाम से संबोधित कर रहे थे। एक बार उस्ताद ने आतंकियों को डांटा भी था क्योंकि वे तय समय से अपने गंतव्य स्थान तक नहीं पहुंच सके थे।

यह भी पढ़ें : पठानकोट : मोदी के कॉल पर नवाज आए Action में

यह भी पढ़ें : #Pathankot पाकिस्‍तान को सबूत सौंपे, अब कार्रवाई की बारी

पाकिस्तान से चार बार आया फोन
टैक्सी ड्राइवर के मोबाइल का प्रयोग सिर्फ एक कॉल करने के लिए किया गया था जबकि उसी नंबर पर चार बार कॉल पाकिस्तानी नंबर से आया। कॉल का विश्लेषण कर रहे एक वरिष्ठ केंद्रीय जांच एजेंसी के अधिकारी ने बताया कि मारे गए ड्राइवर ने कभी किसी पाकिस्तानी मोबाइल नंबर पर कॉल नहीं किया। इस नंबर पर जो कॉल रिसीव किया गया उसमें आतंकियों को ड्राइवर को मार देने के निर्देश दिए गए। ड्राइवर के मोबाइल का उपयोग आतंकियों ने मिस्ड कॉल करने के लिए भी किया और अपने आकाओं से आगे का दिशा-निर्देश पूछा।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button