Patna : इस बुज़ुर्ग के हौसले से हारा कोरोना, घर पर बेटे ने किया था इलाज

पटना : कोरोना की दूसरी लहर से देश भर में कोहराम मचा हुआ है। कोरोना इंफेक्शन के चलते मरीज अस्पतालों में भर्ती होकर जिंदगी और मौत के बीच झूल रहे हैं। ऐसे हालात में बिहार की राजधानी Patna से एक खुश खबर आई है।

पटना की रहने वाली एक 105 साल की बुजुर्ग महिला ने सिर्फ 11 दिनों में अपने हौसले के दम पर पेण्डामिक से जंग जीत ली है। बुजुर्ग महिला की हिम्मत दूसरों के लिए एक मिसाल बन गई है।

Patna में तेज़ी से फैल रहा है इंफेक्शन

न्यूज 18 के मुताबिक, बुजुर्ग महिला देमंती देवी के हौसले को कोरोना भी हिला नहीं सका और उन्होंने सिर्फ होम आइसोलेशन में इस जानलेवा वायरस को मात दे दी है। खुद के कोरोना पॉजिटिव होने पर देमंती देवी घबराई नहीं। पटना के आशियाना नगर में रहने वाले डॉक्टर डीएन अकेला जो खुद 68 साल के हैं और उनकी मां 105 साल की और उनकी पत्नी 61 साल की हैं। इन्हें पिछले 11 अप्रैल को पता लगा कि उनका पूरा परिवार कोरोना पॉजिटिव हो गया है।

रिपोर्ट के मुताबिक, परिवार ने बिना घबराए कोरोना के दौरान दी जाने वाली सभी दवाएं लेना शुरू किया। घर में 105 साल की बुजुर्ग मां थीं, इसलिए डॉ. डी.एन अकेला घबड़ाए जरूर, मगर उन्होंने हिम्मत से काम लिया। घर में ही मां का, खुद का और अपनी पत्नी का इलाज शुरू कर दिया। परिवार द्वारा कोरोना की दवाइयां और गाइडलाइंस को फॉलो किए जाने के बाद  पूरे परिवार की रिपोर्ट निगेटिव आ गई।

यह भी पढ़ें : हिन्दू नववर्ष की पहली पूर्णिमा पर मनकामेश्वर घाट पर हुई आदिगंगा की आरती, मनाई Hanuman जयंती

Related Articles