बिना कोई आश्वासन मिले पाटीदार नेता हार्दिक पटेल ने खत्म किया अनशन

0

अहमदाबादः अपने समुदाय के लिए आरक्षण और किसानों का कर्ज माफ करने की मांग को लेकर बीते 18 दिनों से अनशन पर बैठे गुजरात के पाटीदार नेता हार्दिक पटेल ने अनशन को खत्म कर दिया है। पाटीदार समुदाय के नेता सीके पटेल, नरेश पटेल, जेराम पटेल ने उनका अनशन खत्म करवाया। हार्दिक 25 अगस्त से अनशन पर बैठे हुए थे।

अनशन खत्म करने की घोषणा हार्दिक ने बुधवार दोपहर 3 बजे की। हार्दिक ने अनशन में सहयोग करने वाले सभी लोगों को धन्यवाद दिया। हार्दिक ने कहा कि उनके साथ ही समाज के कई लोग अनिश्चितकालीन अनशन पर थे। हार्दिक ने कहा कि इससे समाज की एकता को और मजबूती दी है। हार्दिक ने इस लड़ाई में साथ देने के लिए अपने समाज के वरिष्ठ लोगों से अपील की।

हार्दिक ने कहा कि पार्टी के वरिष्ठ नेताओं के सम्मान में वह अपना अनशन खत्म कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि वह अपने समाज के वरिष्ठ लोगों के सामने झुक सकते हैं लेकिन सरकार के सामने कभी नहीं झुकेंगे।

इससे पहले ट्वीट के जरिए हार्दिक ने कहा था कि पाटीदार समाज के लोगों ने उनसे जिंदा रहकर लड़ाई जारी रखने की अपील की थी, लिहाजा वह अनशन तोड़ने जा रहे हैं।

हार्दिक ने बुधवार दोपहर ट्वीट किया, ‘किसानों और समाज की कुलदेवी श्री उमिया माताजी मंदिर ऊंझा और श्री खोड़ल माताजी मंदिर कागवड के प्रमुख लोगों ने मुझे कहा कि तुम्हें जिंदा रहकर लड़ाई लड़नी है। सब का सम्मान करते हुए अनिश्चितकालिन उपवास आंदोलन के आज उन्नीसवें दिन दोपहर तीन बजे मैं उपवास आंदोलन खत्म करूंगा।’

बता दें कि आरक्षण और कर्जमाफी को लेकर पाटीदार नेता हार्द‍िक पटेल के समर्थन में हजारों लोग सड़कों पर आ चुके हैं। पाटीदार समुदाय के लोगों ने मेहसाणा जिले के पाटन से ऊंझा तक हार्द‍िक के समर्थन में मार्च भी न‍िकाला था।

ये भी पढें…..राफेल डील पर सरकार के समर्थन में आयी वायुसेना, कहा- आधुनिकीकरण जरूरी

हालांकि अभी तक हार्दिक को किसी मांग पर आश्वासन मिला नहीं है।

loading...
शेयर करें