आज बैंक जाने से पहले ध्यान दे, बैंकों में हड़ताल के चलते बाधित रहेगा कामकाज

देशभर में बैंकों का कामकाज आज प्रभावित होने के आसार दिख रहे क्योंकि केंद्रीय श्रमिक संगठनों की आज गुरुवार को एक दिन की राष्ट्रव्यापी हड़ताल है। इस कारण बैंक से जुड़े कामो पर असर पड़ेगा।

नई दिल्ली: देशभर में बैंकों का कामकाज आज प्रभावित होने के आसार दिख रहे क्योंकि केंद्रीय श्रमिक संगठनों की आज गुरुवार को एक दिन की राष्ट्रव्यापी हड़ताल है। इस कारण बैंक से जुड़े कामो पर असर पड़ेगा। केंद्र सरकार की विभिन्न नीतियों के खिलाफ आज गुरुवार को दस केंद्रीय श्रमिक संघों ने आम हड़ताल करने का आह्वान किया है, इसमें भारतीय मजदूर संघ शामिल नहीं है। अखिल भारतीय बैंक कर्मचारी संघ (एआईबीईए), अखिल भारतीय बैंक अधिकारी संघ (एआईबीओए) और भारतीय बैंक कर्मचारी महासंघ इस हड़ताल में शामिल होंगे है।

आईडीबीआई बैंक और बैंक ऑफ महाराष्ट्र समेत कई बैंकों ने शेयर बाजारों से बुधवार को कहा कि 26 नवंबर गुरुवार को हड़ताल के चलते उनके कार्यालयों और शाखाओं में कामकाज नहीं होगा। विभिन्न सरकारी और निजी क्षेत्र के पुराने बैंकों समेत कुछ विदेशी बैंकों के कर्मचारी एआईबीईए के सदस्य हैं।

ये भी पढ़े : 18 करोड़ की कोकिन के साथ मुंबई हवाई अड्डे पर आरोपी गिरफ्तार

लोकसभा में तीन नए श्रम कानून

एआईबीईए ने कहा कि कारोबार सुगमता के नाम पर लोकसभा में तीन नए श्रम कानून को पारित किया गया हैं। यह कॉरपोरेट के हित में है। श्रम कानूनों के दायरे से करीब 75 प्रतिशत कर्मचारियों को बाहर कर दिया गया है और बनाए गए नए कानूनों के तहत उनके पास कोई विधिक संरक्षण नहीं है। आज बैंक कर्मचारियों की होने वाली हड़ताल की वजह है बैंकों का निजीकरण और विभिन्न नौकरियों को आउटसोर्स करना या संविदा पर करना है। इस हड़ताल में कर्मचारियों की मांग है कि इस क्षेत्र के लिए कर्मचारियों की भर्ती करना है और बड़े कॉरेपोरेट ऋण चूककर्ताओं के खिलाफ कड़ी कार्रवाई होने की मांग की है।

ये भी पढ़े : आज ही के दिन मुंबई में हुआ था आतंकी हमला, इजराइल बनाएगा स्मारक

लगभग 21,000 शाखाएं बंद रहेंगी

आज देश भर में होने वाली हड़ताल की वजह से लगभग 21,000 शाखाएं बंद रहेंगी, इनमे एक लाख अधिकारी और सभी तरह के कर्मचारी काम कर रहे हैं। केंद्र सरकार की कथित जन विरोधी, किसान विरोधी और राष्ट्र विरोधी नीतियों के खिलाफ हड़ताल में बैंकिंग उद्योग भी शामिल होगा। महाराष्ट्र में सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों, पुरानी पीढ़ी के निजी क्षेत्र के बैंकों और विदेशी बैंकों के करीब 30,000 कर्मचारी आज की देशव्यापी हड़ताल में शामिल होंगे।

 

Related Articles