‘सरकार की गलत नीतियों के कारण लोग बेरोजगार हो गए’

नई दिल्ली: कांग्रेस ( Congress ) के राज्यसभा सांसद दीपेंद्र सिंह हुड्डा ( Deepender Singh Hooda ) ने कोरोना महामारी ( Corona Epidemic ) के दौरान लोगों के गए रोजगार को लेकर केंद्र की मोदी सरकार ( Modi Government ) पर निशाना साधा है। उन्होंने राज्यसभा में आरोप लगाया है कि कोरोना महामारी के दौरान सरकार की गलत आर्थिक नीतियों के कारण विकास कार्य बाधित हो गया और बड़े पैमाने पर लोग बेरोजगार हो गए।

दीपेंद्र सिंह हुड्डा ने राज्यसभा में वित्त विधेयक पर चर्चा की शुरुआत करते हुए कहा कि कोरोना वायरस के दौरान सकल घरेलू उत्पाद ( GDP ) लुढ़ककर 23.9 प्रतिशत बेहद ही खराब हो गया था। हुड्डा ने कहा कि कोरोना संक्रमण के पहले ही अर्थव्यवस्था पटरी से उतरने लगी थी। साल 2018 से 2020 के दौरान अर्थव्यवस्था 8 प्रतिशत से घटकर तीन प्रतिशत पर आ गई।

राज्यसभा सांसद दीपेंद्र सिंह हुड्डा UPA सरकार के कार्यकाल का जिक्र करते हुए कहा कि UPA सरकार के 10 साल के कार्यकाल के दौरान GDP 7.8 प्रतिशत थी। लेकिन मोदी सरकार के छह साल के दौरान यह लुढक कर 6.8 प्रतिशत पर आ गई है। दीपेंद्र सिंह ने कहा कि UPA के दौरान औद्योगिक विकास दर 14 प्रतिशत और मांग 24 प्रतिशत थी जबकि अब यह घटकर 9 प्रतिशत हो गया है। इसी तरह से UPA के दौरान निर्यात 21 फीसदी वार्षिक थी जो अब तीन प्रतिशत हो गई है।

यह भी पढ़ें: Ind vs Eng: भारतीय टीम को लग सकता बड़ा झटका, ये दो खिलाड़ी हो सकते हैं बाहर

Related Articles