रेप आरोपी कुलदीप सिंह सेंगर के समर्थन में सड़कों पर उतरे लोग, कहा-हमारे विधायक बेक़सूर हैं

लखनऊ। नाबालिग के साथ गैंगरेप के आरोपी उन्नाव के बांगरमऊ से बीजेपी विधायक कुलदीप सिंह सेंगर के समर्थन में कुछ लोग पूरे जिले में लोग शांति मार्च निकाल रहे हैं। इस शांति मार्च में शामिल लोगों का कहना है कि कुलदीप सिंह बेकसूर हैं उनके खिलाफ साजिश की जा रही है। जिले के कई इलाकों में निकले इस शांति मार्च में पुरुषों के साथ बड़ी संख्या में महिलाएं भी मौजूद रहीं।

कुलदीप सिंह सेंगर जुलूस में लोगों ने अपने हाथों में तख्तियां ले रखी थीं, जिसमें लिखा था, ‘हमारा विधायक निर्दोष है। यह जुलुस बांगरमऊ, सफीपुर, बीघापुर समेत अन्य इलाकों में निकाला गया। वहीँ गंज मुरादाबाद बांगरमऊ में जिला पंचायत सदस्य राघवेन्द्र सिंह के नेतृत्व में एक जुलुस निकाला गया।

इसमें जनप्रतिनिधियों समेत बड़ी संख्या में ग्रामीण मौजूद रहे। यहां सबका कहना है था कि उनके विधायक को राजनैतिक के तहत फंसाया गया है। वो पूरी तरह से बेक़सूर हैं। उन्होंने सीबीआई और सरकार से पूरे प्रकरण में निष्पक्ष जांच कर न्याय की गुहार लगाई गई।

बता दें कि उन्नाव की रहने वाली एक युवती ने कुलदीप सिंह सेंगर पर गैंगरेप और अपने पिता को मरवाने का आरोप लगाया है। विधायक कुलदीप सिंह सेंगर पर गुंडागर्दी और गैंगरेप का आरोप लगाते हुए रविवार को पीड़िता का पूरा परिवार लखनऊ में मुख्यमंत्री आवास के बाहर धरने पर बैठ गया। इस दौरान पीड़िता ने आत्मदाह करने की कोशिश भी की।

इस बीच पुलिस द्वारा गिरफ्तार किए गए पीड़िता के पिता की सोमवार को मौत हो गई। पीड़िता का आरोप है कि पिछले साल 4 जून को कुलदीप सिंह सेंगर और उसके कुछ गुर्गों ने उसके साथ गैंगरेप किया। पीड़िता का यह भी आरोप है कि उसने पुलिस से इसका शिकायत की लेकिन उसकी कहीं सुनवाई नहीं हुई। यहां तक कि दर्ज कराई गई प्राथमिकी में से विधायक कुलदीप सिंह का नाम तक हटा दिया गया।

अब इस मामले में विधायक कुलदीप सिंह सेंगर, उनके भाई अतुल सिंह, सहयोगी शशि सिंह समेत अन्य आरोपी जेल में हैं। सीबीआई इस मामले की जांच पड़ताल में लगी है। जल्दी रिपोर्ट कोर्ट में पेश कर देगी।

Related Articles