किसानों के समर्थन में उतरे सामाजिक संगठन के लोग, भारत बंद का किया समर्थन

सभी ने साफ कहा कि अन्नदाता के हितों की अनदेखी बर्दाश्त नहीं की जाएगी और आठ तारीख को भारत बंद का पुरजोर समर्थन किया जाएगा।

कानपुर: उत्तर प्रदेश के कानपुर में कृषि कानूनों को रद्द करने को लेकर दिल्ली में विरोध कर रहे किसानों के समर्थन में कानपुर में भी सभी धर्म के लोग सड़कों पर उतर आये।

सभी ने साफ कहा कि अन्नदाता के हितों की अनदेखी बर्दाश्त नहीं की जाएगी और आठ तारीख को भारत बंद का पुरजोर समर्थन किया जाएगा। किसानों के समर्थन में रविवार को पहले गोविन्द नगर के चावला चौराहा पर विभिन्न संगठन के लोग एकत्र हुए और विरोध जताया। नारेबाजी करते हुए लोगों ने कहा कि सरकार किसानों के हितों के लिए नहीं उद्योगपतियों के लिए इस काले कानून को लायी है।

बढ़ते विरोध को देखते हुए पहुंची पुलिस ने लोगों को शांत कराया। देर शाम को सिख धर्म के लोगों के साथ सभी धर्मों के लोग मोतीझील पार्क पर एकत्र हो धरने पर बैठ गये। दलित पैंथर के धनीराम ने कहा कि सरकार पूरी तरह से तानाशाही पर उतारु होकर उद्योगपतियों को लाभ पहुंचाने का काम कर रही है। कानपुर के सामाजिक संगठन से लेकर सभी धर्मों के लोग उनके साथ हैं। आठ दिसम्बर के भारत बंद को कानपुर में भी सफल बनाया जाएगा।

यह भी पढ़े: हार्दिक पांड्या बोले मुझे नहीं मिलना चाहिए था मैन ऑफ द मैच, ये खिलाड़ी था असली हकदार

यह भी पढ़े: किसानों के समर्थन में फतेहाबाद और हिसार के तीन जिला पार्षदों ने दिया इस्‍तीफा

Related Articles