लंदन में 15 से खेले जाने वाले एटीपी वर्ल्ड टूर फाइनल्स पर लोगो की नजर टिकी

लंदन में 15 नवम्बर से होने वाले एटीपी वर्ल्ड टूर फाइनल्स पर टिका दी हैं। 34 वर्षीय नडाल को पेरिस मास्टर्स के सेमीफाइनल में जर्मनी के एलेक्जेंडर ज्वेरेव से लगातार सेटों में हार का सामना करना पड़ा था।

पेरिस: पेरिस मास्टर्स के सेमीफाइनल में हार के बाद विश्व के नंबर दो खिलाड़ी स्पेन के राफेल नडाल ने अब अपनी निगाहें लंदन में 15 नवम्बर से होने वाले एटीपी वर्ल्ड टूर फाइनल्स पर टिका दी हैं। 34 वर्षीय नडाल को पेरिस मास्टर्स के सेमीफाइनल में जर्मनी के एलेक्जेंडर ज्वेरेव से लगातार सेटों में हार का सामना करना पड़ा था। लंदन इस हार से नडाल का पहली बार पेरिस मास्टर्स जीतने का सपना फिर टूट गया। एटीपी फाइनल्स भी एक अन्य ऐसा टूर्नामेंट है जिसे नडाल अब तक नहीं जीत पाए हैं।

एटीपी फाइनल्स सत्र का आखिरी टूर्नामेंट है जो लंदन में 15 से 22 नवम्बर तक खेला जाएगा। इस टूर्नामेंट में विश्व के शीर्ष आठ एकल और युगल खिलाड़ी हिस्सा लेते हैं। 20 ग्रैंड स्लेम खिताबों के विजेता नडाल पेरिस में सेमीफाइनल में हार गए लेकिन इस प्रदर्शन में उन्हें सकारात्मकता दिखाई देती है। उन्होंने कहा कि पेरिस उनके लिए सकारात्मक टूर्नामेंट रहा और इससे उन्हें एटीपी फाइनल्स में बेहतर प्रदर्शन करने की प्रेरणा मिलेगी। नडाल ने कहा कि उन्होंने इस कोर्ट पर ऐसे खिलाड़ी के सामने अंत तक संघर्ष किया जो इस सतह पर लगातार अच्छा खेल रहा है।

ये भी पढ़े : डोनाल्ड ट्रंप की नीतियों को उलटने के लिए योजना बना रहे जो बाइडेन

लंदन: निस्संदेह मैं हारने से खुश नहीं हूं

नडाल ने कहा, “निस्संदेह मैं हारने से खुश नहीं हूं लेकिन यह खेल का एक हिस्सा है। मैं एक अच्छे खिलाड़ी के खिलाफ खेला और मैं हार को स्वीकार करता हूं। ज्वेरेव मुझसे बेहतर खेला। मैं इस टूर्नामेंट को जीतना चाहता था लेकिन यह मेरे लिए हमेशा मुश्किल रहा है। मैं पूरे टूर्नामेंट के दौरान सकारात्मक रहा और हर मैच में संघर्ष किया। इससे मुझे चार मैच खेलने का मौका मिला। इससे मुझे लंदन में मदद मिलेगी।” एटीपी फाइनल्स में विश्व के नंबर एक खिलाड़ी सर्बिया के नोवाक जोकोविच भी मौजूद रहेंगे जिन्होंने अपने करियर में छठी बार साल का समापन नंबर एक खिलाड़ी के रूप में करना सुनिश्चित कर लिया है।

Related Articles

Back to top button