प्‍यार का मंद‍िर: शख्स ने मंदिर बनवाकर स्थापित कराई पत्नी के मूर्ति

0

किसी प्रेम पुजारी ने प्यार में पहाड़ तोड़ कर सड़क बना दी। तो किसी ने अपने बेगम की याद में ताजमहल बनवा दिया, पर क्या आप किसी ऐसे इंसान को जानते हैं जिसने अपने प्यार का मंदिर बनावाया हो? जी हां… आपको सुनने में शायद यह अटपटा लगे, पर यह बिल्कुल सच है। दरअसल, कर्नाटक में एक ऐसा ही अनोखा उदाहरण देखने को मिला ​है। यहां पर एक किसान ने एक मंदिर बनावाकर उसमें पत्नी की मूर्ति स्थापित कराई है।

मंदिर बनवाकर स्थापित कराई 

कर्नाटक के येंलदूर जिले के कृष्णपुर गांव में रहने वाले क‍िसान राजूस्वामी उर्फ राजू काफी चर्चा में है। इसकी वजह है उनका पत्नी प्रेम। दरअसल, राजूस्‍वामी ने यहां पर अपनी पत्‍नी का मंद‍िर बनवाया है। यह मंद‍िर दोनों के प्रेम की निशानी की तौर पर देखा जा रहा है। इस मंद‍ि‍र में एक मूर्ती स्‍थाप‍ित की गई है, जोकि राजू के पत्‍नी की है। राजू करीब 12 सालों से यहां हर द‍िन पूजा करने आता है। अब लोग राजू के प्रेम की म‍िसाल भी देने लगे हैं।

बहन की बेटी से की थी शादी

राजूस्वामी ने अपने प्यार की कहानी बताते हुए कहा कि वह अपनी बहन की बेटी से बेहद मोहब्बत करता था और उससे शादी भी करना चाहता था। उसके घर-पर‍िवार और समाज में सभी इसके खि‍लाफ थे। हालांकि, इस र‍िश्‍ते से उसकी बहन-बहनोई को कोई परेशानी नहीं थी। इसल‍िए उसने शादी रचा ली। उसकी पत्‍नी के पास कुछ खास श्‍ाक्‍त‍ियां थी। वह काफी पूजा-पाठ करती थी, आैर जो भी भव‍िष्‍यवाणी करती थी वह सच हो जाती थी।

कैसे बना मंदिर?

शादी के बाद वे दोनों खुशहाल ज‍िंदगी जी रहे थे। उसकी पत्‍नी अक्‍सर गांव में एक मंदिर बनवाने को कहा करती थी। 2006 में मंद‍िर का न‍िर्माण कार्य भी शुरू हो गया तभी एक द‍िन उसने अपने मौत की भव‍िष्‍यवाणी की और मंद‍िर बनने से पहले उसकी ही उसकी मौत हो गयी। मंदिर बन जाने के बाद राजू ने उस मंद‍िर में भगवान नहीं बल्कि अपनी पत्‍नी की मूर्ति‍ भी स्‍थाप‍ित करा दी। अब यहां उसकी पूजा भी होती है। लोग इसे ‘प्‍यार का मंद‍िर’ नाम से पुकारते हैं।

loading...
शेयर करें