पीएम केयर्स फंड को एनडीआरएफ में ट्रांसफर करने के लिए दी गई  याचिका सुप्रीम कोर्ट में ख़ारिज

दिल्ली: पीएम केयर्स फंड को एनडीआरएफ में ट्रांसफर करने के लिए दी गई याचिका को सुप्रीम कोर्ट ने ख़ारिज कर दिया है.कोर्ट ने अपने फैसले में कहा की, पीएम केयर्स फंड चैरिटी फंड की तरह है, इसलिए इसमें जमा रकम को ट्रांसफर करने की कोई जरूरत नहीं है। अदालत ने यह भी कहा कि कोई भी व्यक्ति या संस्थान एनडीआरएफ में दान कर सकता है. पर पीएम केयर्स फंड को ट्रांसफर नहीं किया जा सकता है.

सरकार फंड को इस्तेमाल करने के लिए पूरी तरह स्वतंत्र

अदालत ने कहा की सरकार केयर्स फंड का इस्तेमाल करने के लिए पूरी तरह स्वतंत्र है. जहां चाहे वहां ट्रांसफर कर सकती है.बाकी एन डी आर एफ में पैसे ट्रांसफर करने के लिए या दान देने के लिए स्वतंत्र है यह उसकी इच्छा पर निर्भर है.

वरिष्ठ अधिवक्ता प्रशांत भूषण ने दायर की थी याचिका

दरसल, यह याचिका वरिष्ठ अधिवक्ता प्रशांत भूषण ने एनजीओ ‘सेंटर फॉर पब्लिक इंटरेस्ट लिटिगेशन’ के लिए दायर की थी। याचिका में पीएम केयर्स फंड के सही इस्तेमाल के लिए एक तय दिशा निर्देश तय करने और इस फंड को रास्ट्रीय आपदा प्रबंधन कोष में जमा करवाने के लिए दी गई थी.  याचिका में यह भी कहा गया कि, पीएम केयर्स फंड में प्राप्त राशि का कैग द्वारा ऑडिट नहीं किया जा रहा है और इसकी जानकारी भी लोगों को नहीं दी जा रही है.

कोर्ट ने 27 जुलाई को ही रख लिया था फैसला सुरक्षित

सुप्रीम कोर्ट ने इस मामले पर अपना फैसला 27 जुलाई को ही सुरक्षित रख लिया था। 17 जून को कोर्ट द्वारा जारी किये गए नोटिस का जवाब देते हुए  केंद्र सरकार ने कहा था की वर्तमान महामारी से लड़ने के लिए पीएम केयर्स फंड को स्वैच्छिक दान के लिए बनाया गया है।यह एन डी आर एफ से बिल्कुल  अलग है.

 

 

 

Related Articles