पीएम मोदी ने निकाला नया फार्मूला, पेट्रोल-डीजल के एक झटके में कम होंगे इतने दाम

पेट्रोल-डीजलनई दिल्‍ली। देश में इस समय पेट्रोल और डीजल की कीमतों ने हाहाकार मचा कर रखा हुआ है। दरअसल पेट्रोल-डीजल की कीमतें इस वक्‍त अपने रिकॉर्ड स्‍तर पर पहुंच गई हैं। बता दें कि बीते 11 दिनों में अब तक पेट्रोल-डीजल के दाम 2.50 रुपए तक बढ़ चुके हैं।

वहीं अब एक्साइज ड्यूटी में कटौती की मांग से लेकर टैक्स हटाने तक मांग होने लगी है। वहीं कुछ लोग इसे जीएसटी के तहत लाकर दाम करने की दुहाई दे रहे हैं। यहां तक की पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम ने भी सरकार को नसीहत दे डाली है कि वह कैसे पेट्रोल के दाम कम कर सकती है। वहीं कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने तो पीएम को चुनौती दे दी है। लेकिन खबरों के मुताबिक, अब सरकार ने इसका तोड़ ढूंढ लिया है।

केंद्र की मोदी सरकार पेट्रोल-डीजल के बढ़ते दाम का लॉन्ग टर्म सॉल्यून यानी दीर्घकालिक उपाय तलाश कर रही है। ऐसे में अब पीएम मोदी ने खुद इसका तोड़ निकाल लिया है। तेल कंपनियों के मनमाने रवैया पर अब सरकार चाबुक चलाने की तैयारी कर रही है। दरअसल, सरकार तेल उत्पादक कंपनी ओएनजीसी पर विंडफॉल टैक्स लगाने की तैयारी कर रही है। इससे पेट्रोल-डीजल के दाम में दो रुपए तक की कटौती संभव है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में केंद्रीय मंत्रिमंडल की बैठक हुई थी, जिसके बाद सरकार की तरफ से कहा गया कि वह इसके लॉन्ग टर्म सॉलुशंस पर काम कर रही है। इस बैठक से जुड़े सूत्रों ने बताया कि भारतीय तेल उत्पादक कंपनियों के लिए कच्चे तेल की कीमत 70 डॉलर प्रति बैरल तक सीमित की जा सकती है। उन्होंने बताया कि अगर यह योजना अमल में लाई जाती है तो भारतीय ऑयल फील्ड से तेल निकाल कर उसे अंतरराष्ट्रीय दरों पर बेचने वाली तेल उत्पादक कंपनियां अगर 70 डॉलर प्रति बैरेल की दर से ज्यादा पर पेट्रोल बेचती हैं, तो उन्हें आमदनी का कुछ हिस्सा सरकार को देना होगा।

Related Articles