फिलीपींस ने हाई स्कूल debate के ओलंपिक में जीता स्वर्ण और कांस्य पदक

मनीला : दुनिया भर में हाई स्कूल debate के इतिहास में पहली बार, एक फिलिपिनो को हाई स्कूल डिबेट्स के ओलंपिक माने जाने वाले ‘स्वर्ण पदक’ से सम्मानित किया गया।

रॉबर्ट “टोबी” लेउंग, फिलीपीन साइंस हाई स्कूल – बागुइओ कैंपस के कक्षा बारहवीं के छात्र, ने डिबेट में सर्वश्रेष्ठ स्पीकर का खिताब हासिल किया। लेउंग ने आठ प्रारंभिक बहस दौरों में औसतन 73.17 स्पीकर अंक प्राप्त किए और दुनिया भर के 372 दूसरे छात्रों के साथ साथ वाद-विवाद का पावरहाउस माने जाने वाले कनाडा और सिंगापुर के छात्रों को पछाड़ते हुए सोना जीत लिया।

debate का ओलिंपिक माना जाता है यह कॉम्पिटिशन

वर्ल्ड स्कूल डिबेट चैंपियनशिप (डब्लूएसडीसी), जिसे डिबेट सोसायटी द्वारा ‘हाई स्कूल डिबेट का ओलंपिक’ माना जाता है, एक वार्षिक ग्लोबल वाद-विवाद प्रतियोगिता है जिसकी शुरुआत 1988 में हुई थी। यह वर्ल्ड स्कूल प्रारूप, हाई स्कूल डिबेट के लिए वैश्विक मानक का उपयोग करता है। अब तक के इतिहास में कोई भी फिलिपिनो टूर्नामेंट का सर्वश्रेष्ठ अवार्ड नहीं जीता था।

फिलीपीन हाई स्कूल डिबेट टीम के तीन अन्य सदस्यों को WSDC के 2021 संस्करण में सर्वश्रेष्ठ वक्ता का पुरस्कार दिया गया। मनीला के इंटरनेशनल स्कूल के डेविड ब्लूम को चौथे सर्वश्रेष्ठ वक्ता का पुरस्कार दिया गया। साउथ्रिज हाई स्कूल के जेक पेराल्टा को छठा सर्वश्रेष्ठ वक्ता चुना गया। डी ला साले ज़ोबेल की रीवा फोंग को 11वें सर्वश्रेष्ठ वक्ता का पुरस्कार दिया गया।

यह भी पढ़ें : चेकिंग से बचने के लिए चालक ने पुलिसकर्मी पर चढ़ाई कार, मच गया हाहाकार, देखें वीडियो

Related Articles