पाकिस्तान में 10वीं फेल पाइलट उड़ा रहे हवाई जहाज

पाकिस्तान की सरकारी हवाई सेवा में एक चौंकाने वाला मामला सामने आया है. यहां की सरकारी हवाई सेवा पाकिस्तान इंटरनेशनल एयरलाइंस (PIA) के पांच पाइलट ने मैट्रिक परीक्षा तक पास नहीं की है और वह जहाज उड़ा रहे हैं. यह जानकारी PIA ने खुद सुप्रीम कोर्ट को दी है. इससे पहले सात पाइलट  ने PIA में जाली दस्तावेज जमा किए थे.

सुप्रीम कोर्ट के जज इजाजुल अहसान ने कहा कि जो शख्स मैट्रिक पास नहीं है वह बस तक नहीं चला सकता लेकिन यह लोग यात्रियों की जान खतरे में डाल कर प्लेन उड़ा रहे हैं.’डॉन’ की रिपोर्ट के अनुसार पाक सुप्रीम कोर्ट को जानकारी दी गई कि कम से कम 50 पाइलट को सभी दस्तावेज जमा न करने के चलते सस्पेंड कर दिया गया है.

सुप्रीम कोर्ट की पीठ PIA के पायलट्स और स्टाफ की डिग्री के वेरिफिकेशन के मामले की सुनवाई कर रही है. CAA (सिविल एविएशन अथॉरिटी) ने शिकायत की थी कि एजुकेशनल बोर्ड और विश्वविद्यालय डिग्री वेरिफिकेशन के मामले में मदद नहीं कर रहे हैं.CAA की ओर से कहा गया कि 4321 कर्मचारियों में से PIA के 402 के वेरिफिकेशन अभी पेंडिंग हैं. डॉन की रिपोर्ट के मुताबिक जस्टिस निसार ने कहा कि PIA उसके 498 पाइलट की सूची लाइसेंस एग्जामिनेशन के रिजल्ट के साथ सौंपे. बीते महीने पाकिस्तान सरकार ने PIA के लिए 1700 करोड़ रुपए बेलआउट पैकेज जारी किया है. PIA बीते कई सालों से नुकसान में चल रही है

Related Articles