नोएडा में महिलाओं के लिए पिंक ऑटो शुरू

pa408-1426511633उत्तर प्रदेश में जल्द ही महिलाओं को पिंक ऑटो का तोहफा मिल जाएगा। अभी परीक्षण के तौर पर इस योजना को लखनऊ, गाजियाबाद के बाद नोएडा में लागू किया गया है। यदि यह प्रयोग सफल रहा तो पूरे प्रदेश में महिलाएं पिंक ऑटो से सुरक्षित सफर कर सकेंगी। इस पायलट प्रोजेक्ट के नतीजे अभी देखे जा रहे हैं। शुरूआती नतीजे उत्साहवर्द्धक हैं। पिंक ऑटो सेवा पर लम्बे समय से काम चल रहा था। सूत्रों का यह भी कहना है कि जनवरी माह के अंत तक इस योजना का दायरा कुछ और बढ़ाया जा सकता है इसमें कुछ और जिलों को लिया जा सकता है।

नोएडा में परिवहन कार्यालय पर चुनिंदा 75 ऑटो चालकों को बुलाया गया। सभी ऑटो पर पिंक ऑटो के स्टीकर लगवाए गए। इस मौके पर मौजूद सहायक संभागीय परिवहन अधिकारी (प्रशासन) रचना यदुवंशी ने स्वयं पिंक ऑटो में बैठकर महिलाओं को सुरक्षित सफर का अहसास कराया। उन्होंने ऑटो चालकों के साथ संवाद भी किया।

शहर की छवि बनाने व बिगाड़ने में सवारी वाहन चालकों का बहुत बड़ा योगदान होता है। ऐसे में ऑटो में महिलाओं के साथ शालीनता से बातचीत, किराए को लेकर झिक-झिक न करना। उन्हें मां, बहन या बेटी समझना बहुत महत्व रखता है।

यदि किसी महिला ने पिंक ऑटो तय कर लिया है तो उसे सुरक्षित उसके गंतव्य तक पहुंचाना चालक की जिम्मेदारी रहेगी। पिंक ऑटो में सवारी उठाने में वरीयता महिलाओं को दी जाएगी। ऑटो में सवारी सीट के सामने एक लोहे की पत्ती रहेगी जिसमें आटो नंबर, चालक का नाम, मोबाइल नंबर अंकित रहेगा। जिससे सवारी को चालक के बारे में जानकारी हासिल करने में दिक्कत न आए।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button