पिंकी चौधरी ने पुलिस के सामने किया बड़ा खुलासा, कार्यक्रम के लिए जुलाई में हुई थी बैठक

नई दिल्ली: राजधानी दिल्ली के जंतर-मंतर पर हुई नारेबाजी के मामले में अभी तक 9 आरोपी गिरफ्तार किये जा चुके है। इनमें से पिंकी चौधरी को पुलिस ने एक दिन के रिमांड पर लिया है। पिंकी ने पुलिस के सामने खुलासा किया है कि इस प्रदर्शन के लिए बीते जुलाई महीने में अश्वनी उपाध्याय समेत कई महत्वपूर्ण लोगों की एक बैठक कनॉट प्लेस में हुई थी। इसमें यह तय किया गया था कि इस प्रदर्शन को कैसे बड़ा बनाया जाएगा।

पिंकी चौधरी मंगलवार को किया था

बता दें कि जंतर-मंतर पर हुई नारेबाजी के मामले में बीते मंगलवार को पिंकी चौधरी अपने समर्थकों के साथ मंदिर मार्ग थाने पहुंचा था। वहां से कनॉट प्लेस पुलिस उसे अपने साथ ले गई और देर शाम उसकी गिरफ्तारी की गई थी। इस पूरे मामले को लेकर कनॉट प्लेस पुलिस ने पिंकी चौधरी से पूछताछ हुए जिस दरमियान चौधरी ने पुलिस को बताया कि इस प्रदर्शन के लिए काफी पहले से तैयारी चल रही थी। जुलाई के पहले सप्ताह में कनॉट प्लेस स्थित आर्य समाज मंदिर में उनकी बैठक हुई थी। इस बैठक में अश्वनी उपाध्याय एवं प्रीत सिंह सहित कई प्रमुख लोग शामिल हुए थे।

8 अगस्त को हुआ था प्रदर्शन

पिंकी चौधरी ने बताया कि इस बैठक में 8 अगस्त को होने वाले प्रदर्शन को लेकर चर्चा हुई थी। बैठक में यह तय किया गया था कि किस तरह से आयोजन में प्रदर्शनकारियों की संख्या को बढ़ाना है। इस प्रदर्शन में कौन-कौन लोग शामिल होंगे, कैसे इसे बड़े स्तर पर आयोजित किया जाए। पुलिस को यह भी पता चला है कि पिंकी चौधरी घटना के समय खुद मंच पर मौजूद था। उसने यह भी कबूला है कि नारेबाजी करने वाले उसके समर्थक थे। अपने फरार होने को लेकर भी उसने पुलिस को जवाब दिया है। उसने बताया है कि वह अपने कानूनी अधिकार का इस्तेमाल कर रहा था। उसे जब जमानत नहीं मिली तो उसने पुलिस जांच में सहयोग के लिए सरेंडर कर दिया।

यह भी पढ़ें:  Rajasthan: 45 बच्चों समेत 100 लोग हुए food poisoning का शिकार

Related Articles