पीएम इमरान खान के gift घोटाले से पाकिस्तान में मचा बवाल

लाहौर : बुधवार को प्रधानमंत्री इमरान खान पर विपक्षी दलों द्वारा दस लाख डॉलर की महंगी घड़ी समेत अन्य देशों के प्रमुखों से मिले गिफ्ट्स को बेचने का आरोप लगाया। इस कड़ी में गिफ्ट डिपॉजिटरी के नियमों के अनुसार, इस तरह मिले gift पर देश का हक़ होता है जिसे बाद में नीलाम किया जाता है , लेकिन इमरान ने इसे खुद ही बीच डाला।

इस तरह मिले gift पर होता है देश का हक़

इस कड़ी में पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ की बेटी और पीएमएल-एन की उपाध्यक्ष मरियम नवाज ने ट्वीट किया, “इमरान खान ने दूसरे देशों से मिले उपहारों को बेच दिया है। खलीफा हजरत उमर (पैगंबर मुहम्मद के साथी) अपनी कमीज और बागे के लिए भी जवाबदेह थे और दूसरी तरफ, आप (इमरान खान) ने गिफ्ट डिपॉजिटरी से विदेशी उपहार लूटे और आप रियासते मदीना स्थापित करने की बात कर रहे हैं? कोई व्यक्ति कैसे इतना असंवेदनशील, बहरा, गूंगा और अंधा हो सकता है?” पकिस्तान के पाकिस्तान डेमोक्रेटिक मूवमेंट के नेता मौलाना फजलुर रहमान ने इसे शर्मनाक करार दिया।

वहीँ सोशल मीडिया पर ऐसी खबरें चल रही हैं कि खान को खाड़ी देश के एक राजकुमार ने दस लाख डॉलर की घड़ी भेंट की थी। खबर है इस घड़ी को दुबई में खान के करीबी सहयोगी ने बेचकर दस लाख डॉलर दिए। पाकिस्तान मुस्लिम लीग-नवाज (पीएमएल-एन) पंजाब के अध्यक्ष राणा सनाउल्लाह ने बुधवार को एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि अन्य देशों के प्रमुखों से प्रधानमंत्री को मिले उपहारों की कथित बिक्री के कारण पाकिस्तान को बदनाम किया गया है।

यह भी पढ़ें : आरबीआइ ने Paytm Payments Bank पर लगाया जुर्माना

Related Articles