IPL
IPL

पीएम केपी ओली ने ‘पुष्प कमल दहल’ को दी ‘प्रचंड’ चुनौती, कही ये बड़ी बात

काठमांडू: नेपाल में राजनीतिक घमाशान जारी है, प्रधानमंत्री केपी शर्मा ओली (PM KP Sharma Oli) लगातार अपने मुख से तीखे बाण चलाते दिखाई देते है। दरअसल इस बार प्रधानमंत्री ओली एक कार्यक्रम को सम्बोधित करने अपने गृह जिले झापा पहुंचे, जहाँ उन्होंने सत्तारूढ़ नेपाल कम्युनिस्ट पार्टी के पुष्प कमल दहल (Pushpa Kamal Dahal) ‘प्रचंड’ के नेतृत्व वाले गुट को अविश्वास प्रस्ताव लाने की चुनौती दे डाली।

मै अभी भी नेपाल का प्रधानमंत्री हूँ : PM KP Sharma Oli

नेपाल के एक निजी समाचार पत्र के अनुसार उन्होंने कार्यक्रम को सम्बोधित करते समय प्रचंड के नेतृत्व वाले गुट को चुनौती देते हुए कहा कि, “अगर वो उन्हें शीर्ष पद से हटा सकते है, तो हटा दें।” केपी शर्मा ओली (PM KP Sharma Oli) ने कहा कि वो अभी भी नेपाल कम्युनिस्ट पार्टी के संसदीय दल के नेता हैं। वो पार्टी अध्यक्ष होने के आलावा नेपाल के प्रधानमंत्री भी है। इसलिए अगर आपने संसद की बहाली की है तो मुझे भी प्रधानमंत्री के पद से हटा दें।

न्यायालय ने सदन को किया बहाल

नेपाल में पिछले साल 20 दिसंबर प्रधानमंत्री ओली (PM KP Sharma Oli) की सिफारिश पर राष्ट्रपति बिद्या देवी भंडारी ने संसद के निचले सदन को भंग करने और नए चुनाव कराने की घोषणा की थी। जिसके बाद से ही वहां की राजनीति पर संकट के काले बादल मंडरा रहे है। नेपाली उच्चतम न्यायालय की पांच सदस्यीय संवैधानिक पीठ ने पिछले हफ्ते संसद के 275 सदस्यीय निचले सदन को भंग करने के ओली सरकार के फैसले को असंवैधानिक बताते हुए रद्द कर दिया। इसके अलावा न्यायालय ने अगले 13 दिनों के अंदर सरकार को सदन का सत्र बुलाने का आदेश दिया।

नेपाल के एक निजी समाचार पत्र के अनुसार उन्हों स्पष्ट लफ्जों में कहा है कि, ” अगर आप मुझे हटा सकते है, तो हटा दीजिए। लेकिन अगर मुझे अपने पद से हटाया जाता है तो हम अगले चुनाव में दो-तिहाई बहुमत के साथ सत्ता में आएंगे।

ये भी पढ़ें: LOC पर भारत-पाक युद्धविराम घोषणा का UAE ने किया स्वागत

Related Articles

Back to top button