पीएम मोदी ने किया Japanese Zen Garden और Kaizan Academy का उद्घाटन, भारत-जापान के रिश्ते होंगे मजबूत

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अहमदाबाद में जापानी जेन गार्डन और कैजान एकेडमी का उद्घाटन किया है, उन्होंने कहा मुझे विश्वास है कि यह भारत-जापान के रिश्तों को और मजबूत करेगी

अहमदाबाद: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अहमदाबाद (Ahmedabad) में जापानी जेन गार्डन (Japanese Zen Garden), कैजान एकेडमी (Kaizan Academy) का उद्घाटन किया है। इस दौरान उन्होंने कहा कि जेन गार्डन और कैजान एकेडमी के लोकार्पण का ये अवसर भारत-जापान के संबंधों की सहजता और आधुनिकता का प्रतीक है। मुझे विश्वास है कि जापानी जेन गार्डन, कैजान एकेडमी की स्थापना भारत-जापान (India -Japan) के रिश्तों को और मजबूत करेगी।

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि भारत और जापान जितना बाहरी प्रगति और उन्नति के लिए समर्पित रहे हैं, उतना ही आंतरिक शांति और प्रगति को भी हमने महत्व दिया है। जापानी जेन गार्डन शांति की इसी खोज की, इसी सादगी की सुंदर अभिव्यक्ति है। उन्होंने कहा कि जापान (Japan) की एक से बढ़कर एक कंपनियां आज गुजरात में काम कर रही हैं। मुझे बताया गया है कि इनकी संख्या 135 से भी ज्यादा है। ऑटोमोबिल से लेकर बैंकिंग तक, कंस्ट्रक्शन से लेकर फार्मा तक, हर सेक्टर की जापानी कंपनी ने गुजरात में अपना बेस बनाया हुआ है।

हमारे (भारत और जापान) पास सदियों पुराने सांस्कृतिक संबंधों का मजबूत विश्वास भी है और भविष्य के लिए एक कॉमन विजन भी। इसी आधार पर हम पिछले कई वर्षों से अपनी स्पेशल स्ट्रेटिजिक एंड ग्लोबल पार्टनरशिप को लगातार मजबूत कर रहे हैं।

जापानीज जेन गार्डेन

PM मोदी ने इस दौरान बोला भारत और जापान जितना बाहरी प्रगति और उन्नति के लिए समर्पित रहे हैं, उतना ही आंतरिक शांति और प्रगति को भी हमने महत्व दिया है। जापानीज जेन गार्डेन, शांति की इसी खोज की, इसी सादगी की एक सुंदर अभिव्यक्ति है। उन्होंने कहा कि जापान में जो ‘जेन’ है, वही भारत में ‘ध्यान’ है। बुद्ध ने यही ध्यान, यही बुद्धत्व संसार को दिया था। और जहां तक ‘काईजेन’ की संकल्पना है, ये वर्तमान में हमारे इरादों की मजबूती को निरंतर आगे बढ़ने की हमारी इच्छा शक्ति का प्रतीक है। पीएम ने बताया कि जापान की एक से बढ़कर एक कंपनियां आज गुजरात में काम कर रही हैं।

PM ने कहा मुझे बताया गया है कि इनकी संख्या 135 से भी ज्यादा है। ऑटोमोबिल से लेकर बैंकिंग तक, कंस्ट्रक्शन से लेकर फार्मा तक, हर सेक्टर की जापानी कंपनी ने गुजरात में अपना बेस बनाया हुआ है।

यह भी पढ़े‘वन्दे मातरम्’ गीत के रचयिता Bankim Chandra Chatterjee की जयंती पर जानें उनके जीवन की रोचक Story

(Puridunia हिन्दीअंग्रेज़ी के एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

Related Articles