अंतर्राष्ट्रीय सम्मेलन केंद्र ‘रुद्राक्ष’ का उद्घाटन करेंगे पीएम मोदी, जानिए इसकी खूबियां

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 15 जुलाई गुरूवार को अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी में अंतर्राष्ट्रीय सहयोग और सम्मेलन केंद्र 'रुद्राक्ष' का उद्घाटन करेंगे, उनके साथ जापान प्रतिनिधि भी मौजूद रहेंगे

वाराणसी: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi)15 जुलाई गुरूवार को अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी (Varanasi) का दौरा करेंगे। इसके साथ ही पीएम वाराणसी में अंतर्राष्ट्रीय सहयोग और सम्मेलन केंद्र ‘रुद्राक्ष’ (International Cooperation and Convention Center Rudraksh) का उद्घाटन करेंगे। इस दौरान प्रधानमंत्री कई विकास परियोजनाओं का शिलान्यास और उद्घाटन भी करेंगे। इस मौके पर उनके साथ जापान (Japan) के प्रतिनिधि भी मौजूद रहेंगे। रुद्राक्ष को जापानी शैली में सजाया जा रहा है। जैपनीज फूलों की महक रुद्राक्ष में फैलेगी।

स्टील के 108 रूद्राक्ष के दाने

इसमें स्टील के 108 रूद्राक्ष के दाने लगाए गए है। जितना खूबसूरत ये देखने में लग रहा है। उतनी ही सुंदर इसकी खूबियां भी है। यह दो मंजिला केंद्र सिगरा क्षेत्र में 2.87 हेक्टेयर की जमीन पर बनाया गया है। इसमें 1,200 लोगों की बैठने की क्षमता है।

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि मुझे वाराणसी में एक कन्वेंशन सेंटर रुद्राक्ष का उद्घाटन करते हुए खुशी हो रही है। जापानी सहायता से निर्मित, यह अत्याधुनिक केंद्र वाराणसी को सम्मेलनों के लिए एक आकर्षक गंतव्य बना देगा और इस प्रकार शहर में अधिक पर्यटकों और व्यापारियों को आकर्षित करेगा।

BHU में 100 बेड के MCH विंग का उद्घाटन

पीएम मोदी ट्वीट कर बोले 15 जुलाई को मैं काशी में करोड़ों रुपये से अधिक के विकास कार्यों की एक विस्तृत श्रृंखला का उद्घाटन करने के लिए रहूंगा। 1500 करोड़। ये कार्य काशी और पूर्वांचल के लोगों के लिए ‘ईज ऑफ लिविंग’ को आगे बढ़ाएंगे। उन्होंने कहा कि पिछले कुछ वर्षों में केंद्र और यूपी सरकार ने स्वास्थ्य के क्षेत्र में व्यापक काम किया है। इन्हीं प्रयासों के तहत BHU में 100 बेड के MCH विंग का उद्घाटन किया जाएगा। यह परियोजना काशी और आसपास के क्षेत्रों के लोगों के लिए गुणवत्तापूर्ण स्वास्थ्य सेवा को आसानी से सुलभ बनाएगी।

काशी में जिन प्रमुख परियोजनाओं का उद्घाटन किया जाएगा उनमें शामिल हैं-

  • गोदौलिया में मल्टी लेवल पार्किंग (Multi Level Parking)।
  • पर्यटन विकास के लिए रो-रो वेसल्स (Ro-Ro Vessels)।
  • वाराणसी-गाजीपुर हाईवे (Varanasi-Ghazipur Highway) पर तीन लेन का फ्लाईओवर ब्रिज।

प्रधानमंत्री मोदी ने बोला कि काशी (Kashi) के लिए हमारा दृष्टिकोण आने वाली पीढ़ियों के लिए गुणवत्तापूर्ण बुनियादी ढांचे का निर्माण करना है। इसी भावना से, सिपेट, जल जीवन मिशन के तहत ग्रामीण परियोजनाओं और करखियां में आम के साथ-साथ सब्जी एकीकृत पैक हाउस की आधारशिला रखेंगे

यह भी पढ़ेPankaj Tripathi से बातचीत में Tisca Chopra ने अभिनय सीखने के महत्व पर दिया जोर

(Puridunia हिन्दीअंग्रेज़ी के एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

Related Articles