पीएम मोदी 10 दिसंबर को नए संसद भवन के निर्माण के लिए रखेंगे आधारशिला

देश में एक नया संसद भवन बनने वाला है, इसको लेकर लोकसभा स्पीकर ओम बिरला ने शनिवार को इसकी पुष्टिक करते हुए जानकारी दी है। ओम बिरला ने कहा है कि गुरुवार 10 दिसंबर को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी नए संसद भवन के निर्माण के लिए आधारशिला रखेंगे।

नई दिल्ली: देश में एक नया संसद भवन बनने वाला है, इसको लेकर लोकसभा स्पीकर ओम बिरला ने शनिवार को इसकी पुष्टिक करते हुए जानकारी दी है। ओम बिरला ने कहा है कि गुरुवार 10 दिसंबर को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी नए संसद भवन के निर्माण के लिए आधारशिला रखेंगे। पीएम मोदी नए संसद भवन की भूमि पूजन करके आधारशिला रखेंगे।

आधारशिला रखे जाने के बाद अगले दिन शुक्रवार 11 दिसंबर से निर्माण कार्य शुरू हो जाएगा। अनुमानित 971 करोड़ रुपये की लागत से बनने वाला नए भवन का निर्माण कार्य 2022 तक पूरा होने की उम्मीद जताई जा रही है।

स्पीकर ओम बिरला ने बताया कि नई डिजाइन त्रिकोणीय परिसर के लिए होगी, जिससे कि तीन रंगों की किरणें आसमान में छाई लगेंगी। करीब 60 हजार स्क्वायर मीटर में बन कर तैयार होगा ये नया संसद भवन। नई बिल्डिंग में संयुक्त शासन चलने पर भी 1224 सांसदों की बैठने की व्यवस्था होगी।

888 सीट के बैठने की होगी क्षमता

इसमें लोकसभा सदस्यों के लिए 888 सीट के बैठने की क्षमता होगी जबकि ऊपरी सदन राज्यसभा में बैठने की 326 सीटों की क्षमता होगी। ये नई बिल्डिंग इतनी मजबूत होगी कि कोई भी भूकंप इसकी नीव नहीं हिला सकेगी, ये भूकंप रोधी बिल्डिंग बनेगी। इसके निर्माण में 2000 लोग प्रत्यक्ष रूप से और 9000 लोग अप्रत्यक्ष रूप से जुड़े होंगे।

ये भी पढ़ें : अफगानी नेताओं ने समझौता परिषद की बैठक में लिया हिस्सा

इन्हे मिला कॉन्ट्रैक्ट

नए संसद भवन को बनाने का जिम्मा (कॉन्ट्रैक्ट) टाटा प्रोजेक्ट्स लिमिटेड को मिला है, ये लगभग 971 करोड़ रुपए की लागत से नई संसद भवन बनकर तैयार होगा। यह लेटेस्ट डिजिटल तकनीक से लैस होगा, इसमें सभी सांसदों के लिए अलग से कार्यालय बने होंगे। जिसे पेपरलेस ऑफिस की दिशा में एक कदम कहा जा सकता है साथी ही लाउंज, लाइब्रेरी और समितियों के बैठक कक्ष के साथ ही तमाम तरह की सुविधाएं होगी।

ये भी पढ़ें : दहेज उत्पीड़न से परेशान पूर्व महिला पार्षद ने लगाई फांसी, पति गिरफ्तार

दुनिया के सबसे आधुनिक भवन में से एक होगा नया संसद भवन

बिरला ने कहा कि नया संसद भवन दुनिया के सबसे आधुनिक भवन में से एक होगा। आजादी के 75 वर्ष पूरे होने पर साल 2022 में संसद का सत्र नए भवन में आयोजित होने की उम्मीद जताई जा रही है।

Related Articles