56वें दीक्षांत समारोह में PM मोदी ने बताया 21वीं सदी के भारत का नक्शा

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को यहां कहा कि 21वीं सदी की नींव नवाचार, टीम वर्क और प्रौद्योगिकी के स्तंभों पर टिकी हुई है, जो भारत को पांच खरब डॉलर की अर्थव्यवस्था बनाने में मदद करेगी. भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (आईआईटी) मद्रास के 56वें दीक्षांत समारोह में मोदी ने कहा कि 21वीं सदी की नींव तीन स्तंभों नवाचार, टीम वर्क और प्रौद्योगिकी पर टिकी हुई है. इस दौरान मोदी ने विद्यार्थियों से कहा कि वे जिस तरह का बनना चाहते हैं, तय करें. उन्होंने कहा कि शिक्षा दीक्षांत समारोह के साथ समाप्त नहीं होती, बल्कि यह एक सतत प्रक्रिया है.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को यहां कहा कि 21वीं सदी की नींव नवाचार, टीम वर्क और प्रौद्योगिकी के स्तंभों पर टिकी हुई है, जो भारत को पांच खरब डॉलर की अर्थव्यवस्था बनाने में मदद करेगी. भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (आईआईटी) मद्रास के 56वें दीक्षांत समारोह में मोदी ने कहा कि 21वीं सदी की नींव तीन स्तंभों नवाचार, टीम वर्क और प्रौद्योगिकी पर टिकी हुई है. इस दौरान मोदी ने विद्यार्थियों से कहा कि वे जिस तरह का बनना चाहते हैं, तय करें. उन्होंने कहा कि शिक्षा दीक्षांत समारोह के साथ समाप्त नहीं होती, बल्कि यह एक सतत प्रक्रिया है.

Related Articles