PM Modi Varanasi Visit Live: मेक इन इंडिया के लिए UP पसंदीदा जगह, काशी को मिली ये सौगात

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी में 1500 करोड़ रुपये से अधिक की विभिन्न विकास परियोजनाओं का उद्घाटन किया है

वाराणसी: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी (Varanasi) में पहुंच चुके है। एयरपोर्ट पर उनका स्वागत उत्तर प्रदेश की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने किया है। जिसके बाद पीएम मोदी वाराणसी में बनारस हिंदू विश्वविद्यालय (BHU) पहुंचे। जहां पर उन्होंने 1500 करोड़ रुपये से अधिक की विभिन्न विकास परियोजनाओं का उद्घाटन किया है। इसके साथ ही PM मोदी जापान और भारत के दोस्ती का प्रतीक अंतर्राष्ट्रीय सहयोग और सम्मेलन केंद्र ‘रुद्राक्ष’ (International Cooperation and Convention Center Rudraksh) का भी उद्घाटन करेंगे।

पूर्वांचल का बहुत बड़ा मेडिकल हब

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा आज काशी (Kashi) के विकास से जुड़े 1500 करोड़ रुपए से अधिक परियोजनाओं का शिलन्यास और लोकार्पण करने का अवसर मुझे मिला है। काशी ने दिखा दिया है कि वो रोकती नहीं है। बीते कुछ महीने हम सभी के लिए बहुत मुश्किल भरे रहे हैं। उन्होंने बोला कि काशी नगरी आज पूर्वांचल का बहुत बड़ा मेडिकल हब बन रही है। जिन बीमारियों के इलाज के लिए कभी दिल्ली और मुंबई जाना पड़ता था, उनका इलाज आज काशी में भी उपलब्ध है।

मेक इन इंडिया के लिए यूपी पसंदीदा जगह

पीएम मोदी ने कहा काशी के मेडिकल इंफ्रास्ट्रक्चर में आज कुछ और कड़ियां जुड़ रही हैं। आज महिलाओं और बच्चों की चिकित्सा से जुड़े नए अस्पताल काशी को मिल रहे हैं। इसमें से 100 बेड की क्षमता बीएचयू (BHU) में और 50 बेड जिला अस्पताल में जुड़ रहे हैं। उन्होंने बोला उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) देश के अग्रणी इन्वेस्टमेंट डेस्टिनेशन के रूप में उभर रहा है। कुछ साल पहले तक जिस यूपी में व्यापार-कारोबार करना मुश्किल माना जाता था, आज मेक इन इंडिया के लिए यूपी पसंदीदा जगह बन रहा है।

PM ने कहा कि देश में आधुनिक कृषि इंफ्रास्ट्रक्चर के लिए जो 1 लाख करोड़ रुपए का विशेष फंड बनाया गया है, उसका लाभ अब हमारी कृषि मंडियों को भी मिलेगा। ये देश की कृषि मंडियों के तंत्र को आधुनिक और सुविधा संपन्न बनाने की तरफ एक बड़ा कदम है। ऐसा नहीं है कि 2017 से पहले यूपी के लिए योजनाएं नहीं आती थीं, पैसा नहीं भेजा जाता था। तब भी दिल्ली से इतने ही तेज प्रयास होते थे। लेकिन तब लखनऊ (Lucknow) में उनमें रोड़ा लग जाता था। आज योगी जी खुद कड़ी मेहनत कर रहे हैं। आज यूपी में कानून का राज है।

यह भी पढ़े: Petrol-Diesel के दाम फिर बढ़े, जानिए आपके शहर में क्या है भाव?

(Puridunia हिन्दीअंग्रेज़ी के एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

Related Articles