कोरोना संकट में पीएम मोदी करेंगे पहली विदेश यात्रा, तीन मुद्दों पर हो सकता है समझौता

ढाका: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Modi) अगले हफ्ते यानी 26 मार्च को बांग्लादेश की यात्रा पर जाने वाले हैं। बांग्लादेश की आजादी की स्वर्ण जयंती व संस्थापक शेख मुजीबुर रहमान की जन्मशती के मौके पर होने वाले कार्यक्रम में पीएम मोदी (PM Modi) शामिल होने ढाका जा रहे है। देश में एक बार फिर से बढ़ते कोरोना महामारी के बीच पीएम मोदी की ये पहली विदेश यात्रा होगी। पीएम मोदी 26 मार्च को ढाका पहुंचेंगे और अगले दिन यानी 27 मार्च को वापस स्वदेश लौट आएंगे। उनकी इस यात्रा को ख़ास माना जा रहा है क्योंकि अनुमान लगाया जा रहा है कि वहां पर दोनों देशों के बीच तीन समझौतों पर हस्ताक्षर हो सकते हैं।

इन पांच देशो के प्रमुख होंगे शामिल

बांग्‍लादेश के विदेश मंत्री एके अब्दुल मोमेन ने बताया है कि दोनों देशों के बीच तीन समझौतों पर सहमति बन सकती है, लेकिन अभी तक इस मामले पर अंतिम निर्णय नहीं हुआ है। इसके आगे उन्होंने बताया है कि बांग्लादेश में 17 मार्च से ऐतिहासिक कार्यक्रम आरंभ होने जा रहा है। ये ऐतिहासिक कार्यक्रम इसलिए है क्योंकि इससे पहले कभी दस दिन की समयावधि में पांच देशों के प्रमुख शामिल होने नहीं आए हैं। इस कार्यक्रम में भारत देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के अलावा मालदीव के राष्ट्रपति इब्राहिम मोहम्मद स्वालेह, नेपाल की राष्ट्रपति बिद्या देवी भंडारी, भूटान के पीएम लोते सेरिंग और श्रीलंका के प्रधानमंत्री महिंदा राजपक्षे भी शामिल होंगे।

ये भी पढ़ें : लौट आए चांद नवाब, लिया पाकिस्तान के राष्ट्रपति का इंटरव्यू, Video Viral

मंदिरो में जाएंगे पीएम मोदी

इस यात्रा के दौरान पीएम मोदी बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना के साथ बातचीत करेंगे। इसके अलावा पीएम मोदी ढाका के आसपास के तीन स्थानों पर भी जाएंगे। मोमन ने कहा कि दोनों देशों के बीच आपदा प्रबंधन और सहयोग के लिए भी समझौते हो सकता हैं। पीएम मोदी इस यात्रा के दूसरे दिन सतखिरा और गोपालगंज के ओरकंडी स्थित हिंदू मंदिरों का दौरा करेंगे। इसके अलावा बंगबंधु शेख मुजीबुर रहमान की तुंगियापारा स्थित समाधि पर भी जाएंगे। ये दोनों मंदिर विशेष रूप से हिंदू मतुआ समुदाय के पूजा स्थल हैं।

ये भी पढ़ें : Taimur Ali Khan बने शेफ, बनाई लाजवाब डिश, इन सितारों ने की तारीफ

 

Related Articles