पीएम मोदी ने AIIMS में लगवाई Corona Vaccine की पहली डोज, कही ये बात

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राजधानी दिल्ली के एम्स (AIIMS) अस्पताल में लगवाई कोरोना वैक्सीन की पहली डोज। 28 दिन बाद वैक्सीन की दूसरी डोज लगाई जाएगी

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राजधानी दिल्ली के एम्स (AIIMS) अस्पताल में लगवाई कोरोना वैक्सीन (Corona Vaccine) की पहली डोज। 28 दिन बाद वैक्सीन की दूसरी डोज लगाई जाएगी। देश में कुल 1,43,01,266 लोगों को कोरोना वायरस की वैक्सीन लगाई गई है।

इस सिस्टर ने लगाई वैक्सीन

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को भारत बायोटेक की कोवैक्सीन (Biotech Covaccine) की पहली डोज दी गई है। 28 दिन में दूसरी डोज लगाई जाएगी। वैक्सीन देने के बाद उन्होंने बोला कि वैक्सीन लगा भी दी, पता भी नहीं चला। कैसे हमारे डॉक्टरों और वैज्ञानिकों ने COVID-19 के खिलाफ वैश्विक लड़ाई को मजबूत करने के लिए त्वरित समय में काम किया है। जो लोग वैक्सीन लेने योग्य हैं मैं उन सभी से वैक्सीन लगवाने की अपील करता हूं। साथ में मिलकर हम सब भारत को COVID-19 मुक्त बनाते हैं।

पुदुचेरी की सिस्टर पी.निवेदा ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को भारत बायोटेक की कोवैक्सीन (Biotech Covaccine) लगाई है।

बायोटेक कंपनी देगी मुआवजा

कोरोना वायरस वैक्सीन को लेकर भारत बायोटेक कंपनी ने यह ऐलान किया था कि कोवैक्सीन (Covaxine) के लगाए जाने पर किसी व्यक्ति के साथ दुष्परिणाम (Side effect) सामने आते है तो कंपनी खुद इसका मुआवजा देगी। कोरोना वैक्सीन की 55 लाख डोज खरीदने का भारत सरकार ने फैसला भी किया है।

वैक्सीन के लिए सहमति पत्र

बायोटेक कंपनी (Biotech Company) का कहना है कि जिसे भी कोरोना वैक्सीन लगवाना होगा उसे सबसे पहले एक ‘सहमति पत्र’ पर ‘हस्ताक्षर’ करना होगा। बायोटेक ने इस बात की पुष्टी करते हुए कहा था कि वैक्सीन लगवाने वाले किसी भी व्यक्ति के साथ कोई अनहोनी या दुष्परिणाम होता है तो उसे कंपनी मुआवजा देगी। इसके साथ ही अगर व्यक्ति को स्वास्थ्य संबंधि कोई भी समस्या होती है तो उसकी सरकारी अस्पताल में देख-रेख की सुविधा भी उपलब्ध कराई जाएगी।

मुआवजा मिलने की शर्त

बायोटेक कंपनी ने यह बात स्पष्ट कहा कि मुआवजा तभी दिया जाएगा जब दुष्परिणाम (Side effect) का कारण वैक्सीनेशन ही होगा। सहमति पत्र में इस बात का जिक्र साफ है कि वैक्सीन लगने के बाद भी आपको कोरोना गाइडलाइन (Corona Guideline) के नियमों का पालन करना होगा।

यह भी पढ़े: निर्मला सीतारमण के आरोपों पर राज्य के वित्त मंत्री टीएम थॉमस ने किया पलटवार

Related Articles